नि:शुल्क शिक्षा के साथ संस्कार भी दे रहा है ये स्कूल

लगातार गिरते शिक्षा के स्तर और शिक्षा के व्यापारीकरण के युग में छात्र-छात्राओं को शिक्षा के साथ संस्कार प्रदान करने की बात किसी के गले नहीं उतरती, लेकिन मध्यप्रदेश के बड़वाह में माँ शरणम विद्यालय में आप ऐसा नजारा देख सकते है, माँ शरणम स्कूल ऐसे लोगो में विश्वास पैदा कर रहा है, जो शिक्षा के साथ-साथ संस्कार को भी महत्त्व देते है. इस विद्यालय में करीब 175 विद्यार्थियों को हर प्रकार की सुविधा नि:शुल्क प्रदान की जाती है. जिसमे भोजन, गणवेश, और छात्रावास की सुविधा शामिल है. इस विद्यालय में ऐसे छात्रों को प्रवेश हेतु प्राथमिकता दी जाती है, जो आर्थिक रूप से पिछड़े और कमजोर रहते है.

भजन से शुरुआत तत्पश्चात ध्यान और योग 
सोसायटी के सचिव सरबजीतसिंह भारज के अनुसार 5 एकड़ क्षेत्र में फैले इस विद्यालय में गौशाला, मंदिर, और बगीचा भी है. इसमें नर्सरी से कक्षा 10वी तक के बच्चो को शिक्षा प्रदान की जाती है, शुरुआत भजन से होती है, साथ ही प्रतिदिन भजन के बाद ध्यान और योग भी किया जाता है. गौशाला में वर्तमान में 13 गाये है. माँ आनंदमयी का मंदिर और लैब के निर्माण का कार्य चल रहा है. प्रतिमाह सोसाइटी करीब 1 लाख रुपये का खर्च वहन करती है.  

विद्यार्थियों का सकारात्मक व्यवहार 
विद्यालय के शिक्षकगण राधा वर्मा, संजय सोलंकी, नरेंद्रसिंह चौहान और प्रवीण योगी का कथन है कि माँ शरणम स्कूल में शिक्षा प्रदान करना बेहद सुखपूर्ण अनुभुति है. बच्चो की प्रतिभा और सकारात्मक व्यवहार को देखकर मन हर्षित होने लगता है. अभिभावक राजू वर्मा, आशाराम जाधव,का कहना है कि स्कूल से बच्चों को पढ़ाई के साथ संस्कार भी मिल रहे हैं. इससे बच्चो का सकारात्मक व्यवहार साफ झलकता है. 

यह भी पढ़े-

ONGC में निकली भर्ती, ऐसे कर सकते है आवेदन

मिनिस्ट्री ऑफ टेक्सटाइल्स में निकली भर्ती, ऐसे करे आवेदन

MPSC में जूनियर इंस्पेक्टर के पद पर नौकरी का सुनहरा अवसर

 

जॉब और करियर से जुडी हर ख़बर न्यूज़ ट्रैक पर सिर्फ एक क्लिक में, पढिये कैसे करे जॉब पाने के लिए तैयारी और बहुत कुछ.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -