ये 5 इलेक्ट्रिक वाहन पिछले एक महीने में 4 लाख रुपये तक हुए सस्ते
ये 5 इलेक्ट्रिक वाहन पिछले एक महीने में 4 लाख रुपये तक हुए सस्ते
Share:

इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में हाल ही में कीमतों में बड़ा बदलाव देखा गया है, कई प्रमुख मॉडलों की कीमतों में 4 लाख रुपये तक की कटौती देखी गई है। यह कदम पर्यावरण के प्रति जागरूक उपभोक्ताओं और इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में बदलाव चाहने वालों के लिए एक स्वागत योग्य कदम है। आइए इन महत्वपूर्ण कीमतों में गिरावट के विवरण पर गौर करें:

टाटा नेक्सन ईवी

भारत की लोकप्रिय इलेक्ट्रिक एसयूवी में से एक Tata Nexon EV की कीमत में उल्लेखनीय कटौती हुई है। टाटा मोटर्स ने प्रतिस्पर्धी ईवी सेगमेंट में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए नेक्सॉन ईवी की कीमत में 2.5 लाख रुपये तक की कटौती की है, जिससे यह संभावित खरीदारों के लिए अधिक सुलभ हो गई है।

एमजी जेडएस ईवी

इलेक्ट्रिक एसयूवी सेगमेंट में एक अन्य प्रमुख खिलाड़ी एमजी जेडएस ईवी की कीमत में भी भारी गिरावट देखी गई है। एमजी मोटर इंडिया ने ZS EV की कीमत में 1.5 लाख रुपये तक की कटौती की घोषणा की है। इस कदम का उद्देश्य अधिक ग्राहकों को इलेक्ट्रिक मोबिलिटी अपनाने के लिए आकर्षित करना है।

हुंडई कोना इलेक्ट्रिक

अपनी प्रभावशाली रेंज और फीचर्स के लिए मशहूर हुंडई कोना इलेक्ट्रिक की कीमत में महत्वपूर्ण संशोधन हुआ है। हुंडई मोटर इंडिया ने इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में इसकी सामर्थ्य और प्रतिस्पर्धात्मकता को बढ़ाते हुए कोना इलेक्ट्रिक की कीमत 1.6 लाख रुपये तक कम कर दी है।

ऑडी ई-ट्रॉन

लग्जरी ऑटोमेकर ऑडी इलेक्ट्रिक वाहन सेगमेंट में कीमत में कटौती के ट्रेंड में शामिल हो गई है। ऑडी ई-ट्रॉन, एक प्रशंसित इलेक्ट्रिक एसयूवी, 4 लाख रुपये तक की कीमत में कटौती के साथ और अधिक किफायती हो गई है। ऑडी के इस रणनीतिक कदम का उद्देश्य भारतीय बाजार में अपनी इलेक्ट्रिक पेशकश की मांग को प्रोत्साहित करना है।

जगुआर आई-पेस

जगुआर लैंड रोवर (JLR) ने भी अपनी प्रीमियम इलेक्ट्रिक एसयूवी, Jaguar I-PACE की कीमत में भारी कटौती की घोषणा की है। 5.7 लाख रुपये तक की कीमत में गिरावट के साथ, I-PACE अब इलेक्ट्रिक मोबिलिटी अपनाने के इच्छुक लक्जरी कार उत्साही लोगों के लिए एक अधिक आकर्षक विकल्प प्रस्तुत करता है।

इलेक्ट्रिक वाहनों की श्रेणी में कीमतों में ये कटौती भारतीय ऑटोमोटिव परिदृश्य में टिकाऊ और पर्यावरण-अनुकूल परिवहन विकल्पों की ओर एक महत्वपूर्ण बदलाव का संकेत देती है। अधिक किफायती मूल्य निर्धारण के साथ, ईवी अपनाने में वृद्धि देखने की उम्मीद है, जो कार्बन उत्सर्जन और जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता को कम करने की दिशा में देश के प्रयासों में योगदान देगा।​ इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमतों में हालिया गिरावट भारत में ईवी बाजार के लिए एक सकारात्मक विकास का संकेत देती है, जिससे व्यापक दर्शकों के लिए पर्यावरण-अनुकूल परिवहन अधिक सुलभ हो गया है। प्रतिस्पर्धी मूल्य निर्धारण और बुनियादी ढांचे में सुधार के साथ, इलेक्ट्रिक वाहन देश में गतिशीलता के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं।

EPFO का बड़ा ऐलान, बढ़ा दिया ब्याज

श्वेत पत्र क्या है? कैसे, कब और किसके द्वारा किया जाता है इसका उपयोग

'नहीं बढ़ेगी आपके लोन की EMI...', RBI ने उठाया ये बड़ा कदम

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -