वेदों ने भी किया है बखान ,हनुमान जी की महिमा है जग में महान

Feb 22 2016 09:13 PM
वेदों ने भी किया है बखान ,हनुमान जी की महिमा है जग में महान

हनुमान जी की इस कलियुग में महिमा महान है. उनकी पूजा,उपासना, मंत्र और पाठ करने से मानव के कष्ट दूर होते हैं. हनुमान जी का नाम लेते ही भक्तों पर आई समस्या का निवारण हो जाता है . भगवान राम ने भक्तों की रक्षा और उनके कल्याण के लिए हनुमान जी को इस पृथ्वी लोक में वास करने को कहा और तभी से हनुमान जी इस कलयुग में सदा सहाय हुए है .

कलयुग केवल नाम अधारा। 
सुमिर सुमिर नर उतरहिं पारा।।

इस कलयुग में केवल नाम लेने मात्र से मानव के कष्ट दूर हो जाते है. बस आपके विशवास ,और सच्चे ध्यान की ही तो बात है . प्रेम से पुकारों ये आपकी हर एक कामना पूर्ण करेंगें . हनुमान जी को प्रसन्न करने का सबसे सरल उपाय है हनुमान चालीसा का पाठ नित्य नियम से करना चाहिए .

आज इस संसार में ऐसे भी लोग है जिन पर आये बड़े से बड़े कष्ट और विपत्ति भी हनुमान जी के नाम लेते ही दूर हो गई है . मानव पर आई बड़ी से बड़ी समस्या का निवारण करते है हनुमान जी .

हनुमान जी की उपासना से निरोगी काया का आशीर्वाद भी मिलता है. इसके लिए सबसे सटीक पाठ  "हनुमान बाहुक" का विधान है.  21 दिनों तक प्रतिदिन पाठ करने  से कंठ रोग, गठिया, वात, जोड़ों का दर्द जैसे रोगों से मुक्ति मिल जाती है.

हनुमान जी का पूजन बड़ी ही पवित्रता के साथ करें .सुन्दरकाण्ड , चालीसा का पाठ करते समय एकाग्रता से सही उच्चारण कर पूर्ण करें .ऐसा करने से आपके जीवन में आये मृत्यु तुल्य कष्ट का भी निवारण होगा .