थाइलैण्ड यात्रा से निवेश को बढ़ावा मिलेगा- सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत

देहरादून : थाइलैण्ड यात्रा से लौटे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास पर पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि उनकी थाइलैण्ड यात्रा काफी उत्साहजनक रही है. थाइलैण्ड के मंत्रियों ने भी राज्य सरकारों के प्रयासों को सफल बनाने में मदद की है. पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्मीद से अधिक 300 निवेशक खाद्य और प्रसंस्करण से सम्बन्धित संगोष्ठी में शामिल हुए. पर्यटन से सम्बन्धित योजनाओं में निवेश की सम्भावनाओं से सम्बन्धित संगोष्ठी और इससे सम्बन्धित रोड शो में 102 ट्रैवल एजेन्सियों ने भी प्रतिभाग किया. निवेश सम्बन्धी मुख्य संगोष्ठी में 1100 से अधिक उद्योग जगत से जुड़े लोग शामिल हुए.

सीएम ने कहा कि थाइलैण्ड के लोगों में हिमालय के प्रति आकर्षण स्पष्ट नजर आता है. थाइलैण्ड यात्रा का जो मकसद था वह पूर्णत सफल रहा है. विश्व की नामचीन कम्पनियों, फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में सीपी ग्रुप व होटल के क्षेत्र में माइनर ग्रुप ने निवेश के प्रति उत्सुकता दिखाई है. इसके अलावा पर्यटन से जुड़े कई बड़े लोगों ने भी इस दिशा में पहल की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि इन संगोष्ठियों में प्रदर्शित पर्यटन से सम्बन्धित फिल्म को भी लोगों ने सराहा है. उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य धनाढ्य पर्यटकों को भी राज्य के प्रति आकर्षित करने का है. इस दिशा में थाइलैण्ड बड़ा सहयोगी बन सकता है. वहां का पर्यटक खर्चीला है. हर साल हमारे यहां तीन करोड़ पर्यटक आते है तो मात्र सात करोड़ की आबादी वाले थाइलैण्ड में हर साल चार करोड़ पर्यटक आते हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर्बल व आयुर्वेद पर थाइलैण्ड के लोगों का स्वाभाविक लगाव है. हमारा ध्यान सर्विस सेक्टर पर भी ज्यादा है. शीघ्र ही यहां आयोजित होने वाली इन्वेस्टर मीट में वहां के उद्यमियों व निवेशकों को आमंत्रित किया जाएगा तथा उनसे प्राप्त प्रस्तावों पर ध्यान दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन प्रदेश के खाद्य प्रसंस्करण, पर्यटन, उद्योग, आयुष, आयुर्वेद व योग आदि क्षेत्रों में निवेश की सम्भावनाओं को साकार करने में मददगार होते है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में की जा रही सकारात्मक पहल प्रदेश की आर्थिकी को मजबूत बनाने में कारगार साबित होगी. पर्यटक और नए निवेश के लिहाज से सीएम की इस यात्रा को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है. 

सेना का कार्गो हेलीकॉप्टर दुर्घटना का शिकार

उत्तराखण्ड में 100 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा

चंडीगढ़ से सफर हुआ महंगा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -