शिक्षकों व पुलिस के बीच चला लुका-छुपी का खेल

Sep 26 2015 01:42 PM
शिक्षकों व पुलिस के बीच चला लुका-छुपी का खेल

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में करीब तेरह दिनों से आंदोलन कर रहे अध्यापको का आंदोलन काफी उग्र हो गया. यह आंदोलन शिक्षा विभाग में संविलियन व छठे वेतनमान की पूरी क़िस्त की मांग के लिए किया जा रहा था. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यह सभी अध्यापक शुक्रवार दोपहर को बारह बजे के दरमियान भोपाल की लालघाटी चौराहे पर समूहों के रूप में इकट्ठे हुए व इन शिक्षको के समूहों  ने वहां पर करीब पांच घंटे तक हंगामा मचाया व पुरे लालघाटी चौराहे को घेर लिया. व यह अध्यापक पुलिस प्रशासन के सख्त रवैये के कारण रैली नही निकल पाए. कुछ शिक्षको को भोपाल में आने से पहले ही हिरासत में ले लिया गया. जितेंद्र शाक्य जो की मप्र शासकीय अध्यापक संगठन के प्रवक्ता है उन्होंने कहा की पुलिस ने पचास हजार से अधिक शिक्षको को गिरफ्तार कर लिया है. 

पुलिस ने करीब 35 हजार शिक्षको को जंगलो व बाकि को देर रात को छोड़ने की कार्यवाही की. शासकीय अध्यापक संगठन के नेताओं ने कहा की इस गिरफ्तारी के बाद हम दिल्ली के जंतर मंतर पांच अक्टूबर को अपना प्रदर्शन करेंगे. जब भोपाल की लालघाटी में पुलिस की कार्यवाही हुई थी तब पांच सौ के करीब शिक्षक उन्हें देखकर भागे व पुलिस भी इनके पीछे हो गई यह सिलसिला करीब आधें घंटे तक चला व इस कारण ट्रैफिक भी जाम रहा. बहुत से शिक्षको ने पुलिस की कार्यवाही देख होटल में घुस गए व वहां पर चाय पीने लगे. बहुत से शिक्षक पास ही स्थित तृप्ति हॉस्पिटल के ICU में ही घुस गए जिन्हे STF ने बाहर निकाला.