स्वामी ओम पर 5 लाख का जुर्माना, इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सुनाई सजा

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी अदालत ने स्वामी ओम के खिलाफ दस लाख के जुर्माने को कम करते हुए पांच लाख कर दिया है. यही नहीं अदालत ने आठ सप्ताह के अंदर जुर्माने की रकम भर कर रिपोर्ट जमा कराने के लिए भी कहा है. दरअसल अपने विवादित बयानों के कारण सुर्ख़ियों में रहने वाले स्वामी ओम ने वर्ष 2017 में न्यायाधीश दीपक मिश्रा को प्रधान न्यायाधीश (CJI) बनाए जाने के खिलाफ याचिका दायर की थी. 

इस मामले में अदालत ने सजा के तौर पर स्वामी ओम पर दस लाख रुपये का जुर्माना लगाया था. किन्तु स्वामी ओम की ओर से अब तक जुर्माना नहीं भरा गया है.  स्वामी ओम ने पूर्व CJI मिश्रा को सुप्रीम कोर्ट का 45वां चीफ जस्टिस नियुक्त किए जाने के फैसले का विरोध किया था. यही नहीं स्वामी ओम ने इस फैसले के विरोध में अदालत में चुनौती याचिका दाखिल कर दी थी. जिसके बाद अदालत ने स्वामी ओम की इस याचिका को ठुकरा दिया था, इसके साथ ही इसे एक ओछी हरकत बताते हुए उन पर 10 लाख का आर्थिक जुर्माना भी लगाया था. 

बता दें कि स्वामी ओम बिग बॉस के सीजन 10 में नजर आए थे. वैसे स्वामी ओम शो पर आने से पहले ही काफी चर्चाओं में थे. स्वमी ओम दावा करते थे कि वे भविष्य देख सकते हैं. स्वामी ओम ने बिग बॉस के घर में ऐसी हरकत की थी जिससे पूरा देश अचंभित रह गया था. अपने आप को बाबा कहने वाले स्वामी ओम ने बिग बॉस में एक टास्क के दौरान बानी जे और रोहन पर अपना यूरिन फेंका था.

कोरोना के कारण भारत में सुस्त पड़ी सोने की डिमांड, मांग में 30 फीसद की गिरावट

Zydus Cadila को USFDA से बाज़ार में मिलने वाली डायबिटीज़ की दवा के लिए मिली मंजूरी

MCX गोल्ड वॉच: सोना स्थिर, चांदी में आ सकती है और गिरावट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -