उन्नाव मामला: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए लाया जाए दिल्ली एम्स

Aug 05 2019 01:58 PM
उन्नाव मामला: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए लाया जाए दिल्ली एम्स

नई दिल्‍ली : उन्‍नाव दुष्कर्म मामले की पीडि़ता का उपचार अब दिल्‍ली के एम्‍स में होगा. सोमवार को सर्वोच्च न्यायालय ने इस मामले में सुनवाई करते हुए आदेश दिया कि उन्‍नाव दुष्कर्म को बेहतर उपचार के लिए लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर से विमान के द्वारा दिल्‍ली के एम्‍स अस्पताल लाया जाए.

वहीं किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी की तरफ से सोमवार को जारी किए गए मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक उन्‍नाव दुष्कर्म पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक किन्तु स्थिर है. दुष्कर्म पीड़िता का स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर बताया जा रहा है. वहीं वकील बिना वेंटिलेटर की सहायता से सांस ले रहा है मगर अभी गहरे कोमा में है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि रायबरेली जाते समय दुष्कर्म पीड़िता की कार का एक ट्रक के साथ एक्‍सीडेंट हो गया था. 

इसमें दोनों रेप पीड़िता और वकील गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे. जबकि पीड़िता के रिश्‍तेदारों की मौत हो गई थी. फिलहाल पीड़िता और उनके व‍कील का उपचार लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है. वहीं अब सर्वोच्च न्यायालय ने इस मामले में सुनवाई करते हुए आदेश दिया कि उन्‍नाव दुष्कर्म को बेहतर उपचार के लिए लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर से विमान के द्वारा दिल्‍ली के एम्‍स अस्पताल लाया जाए.


मोदी सरकार दे रही सस्ता सोना खरीदने का मौका, आज से ही शुरू हुई योजना

आरबीआई ने जारी किया संसद सदस्य और विधायक से संबंधित ये सर्कुलर

आर्थिक सुस्ती से लड़ने के लिए सस्ते क़र्ज़ को हथियार बनाएगी केंद्र सरकार