रविवार को करे सूर्य पूजा

सूर्यदेव को हिन्दू धर्म के पंचदेवों में से प्रमुख देवता माना जाता है. इनकी उपासना करने से ज्ञान, सुख, स्वास्थ्य, पद, सफलता, प्रसिद्धि आदि की प्राप्ति होती है. प्रतिदिन पूजा करने से व्यक्ति में आस्था और विश्वास पैदा होता है.

1-सूर्य की पूजा इंसान को निडर और बलवान बनाती है.

2- सूर्य पूजा व्यक्ति के मन से अंहकार, क्रोध, लोभ, इच्छा, कपट और बुरे विचारों को दूर करती है.

3- सूर्य पूजा मनुष्य को परोपकारी बनाती है.

4- सूर्यदेव की पूजा करने वाला हर व्यक्ति आने वाली कठिनाओं पर काबू पा लेता हैं इससे उनके शारीरिक, व्यवाहारिक और धैर्य का पता चलता है.

5- सूर्यदेव की पूजा कोमल और पवित्र आचरण प्रदान करती है.

सुबह स्नान कर सफेद वस्त्र पहने और सूर्य देव को नमस्कार करें. इसके बाद एक तांबे के बर्तन में ताजा पानी भरें तथा नवग्रह मंदिर में जाकर सूर्यदेव को लाल चंदन का लेप, कुकुंम, चमेली और कनेर के फूल अर्पित करें. सूर्यदेव की प्रतिमा के आगे दीप प्रज्जवलित कर, मन में सफलता और यश की कामना करें और "ऊं सूर्याय नम:" का जाप करते हुए सूर्यदेव को जल चढ़ाए. सूर्यदेव को पवित्र जल चढ़ाने के बाद जमीन पर माथा टेककर इस मंत्र का जाप करें.

दिवाली के दिन जलाये बेलपत्र के निचे दिया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -