क्यों जरूरी है स्टीम लेना

अक्टूबर का महीना ख़त्म होने को है और सर्दी ने अपमी दस्तक देना शुरू कर दिया है. इस मौसम में सर्दी लग्न एक आम बात है. अक्सर घरों में सर्दी लगने पर स्टीम दी जाती है और गर्ल्स तो बिना सर्दी के भी अपनी ब्यूटी को बढ़ाने के लिए स्टीम का भरपूर उपयोग करती देखी जा सकती है.सर्दी-जुकाम और कफ होने की स्थ‍िति में भाप लेना रामबाण उपाय है। भाप लेने से न केवल आपकी सर्दी ठीक होगी बल्कि गले में जमा हुआ कफ भी आसानी से निकल सकेगा और आपको किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।त्वचा की गंदगी को हटाकर अंदर तक त्वचा की सफाई करने और त्वचा को प्राकृतिक चमक प्रदान करने के लिए भाप लेना एक बेहतरीन तरीका है। बगैर किसी मेकअप प्रोडक्ट का इस्तेमाल किए यह तरीका आपकी स्किन को ग्लोइंग बना सकता है। 

अगर चेहरे पर मुंहासे हैं, तो बिना देर किए चेहरे को भाप दीजिए। इससे रोमछिद्रों में जमी गंदगी और सीबम आसानी से निकल पाएगा और आपकी त्वचा साफ हो पाएगी।  चेहरे की मृत त्वचा को हटाने एवं झुर्रियों को कम करने के लिए भी भाप लेना एक बढ़िया उपाय है। यह आपकी त्वचा को ताजगी देता है, जिससे आप तरोताजा नजर आते हैं। त्वचा की नमी भी बरकरार रहती है।  अस्थमा जैसी स्वास्थ्य समस्याओं में भी भाप लेना काफी फायदेमंद साबित होता है। डॉक्टर्स ऐसी परिस्थति में भाप लेने की सलाह देते हैं, ताकि मरीज को राहत की सांस मिल सके। 

पानी में हर्बल और तेल डालकर भाप लेने से सांस की समस्‍याएं को जल्‍द ही खत्‍म किया जा सकता है। अगर आपको भाप लेने में असुविधा या जलन हो रही है तो तुरंत तौलिया हटा लें।अगर आप राहत महसूस कर रहे हैं तो भाप ना लें। बच्चें, गर्भवती महिलाएं या अस्थमा के रोगी भाप लेते समय ज्‍यादा सावधानी बरतें। सुंदरता के लाभ के लिए भी भाप ली जा सकती है।

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -