आज ही इन 4 चीजों से बनाएं दूरी, हमेशा हेल्दी और चमकती रहेगी स्किन
आज ही इन 4 चीजों से बनाएं दूरी, हमेशा हेल्दी और चमकती रहेगी स्किन
Share:

स्वस्थ, चमकती और साफ़ त्वचा पाना कई व्यक्तियों की एक आम आकांक्षा है। त्वचा की वांछित गुणवत्ता पाने के लिए लोग अक्सर विभिन्न घरेलू उपचारों और यहां तक कि महंगे उत्पादों का भी सहारा लेते हैं। हालाँकि, स्वास्थ्य विशेषज्ञों का सुझाव है कि स्वस्थ त्वचा पाने के लिए अच्छी आहार संबंधी आदतें बनाए रखना महत्वपूर्ण हो सकता है, और कोई भी त्वचा देखभाल दिनचर्या खराब आहार की भरपाई नहीं कर सकती है। इसके विपरीत, संतुलित आहार की उपेक्षा करने से त्वचा की चमक खत्म हो सकती है और समय से पहले उम्र बढ़ने के लक्षण दिखाई दे सकते हैं।

हाल ही में, पोषण विशेषज्ञ लवनीत बत्रा ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक पोस्ट साझा किया जिसमें चार खाद्य पदार्थों पर प्रकाश डाला गया जो त्वचा पर हानिकारक प्रभाव डाल सकते हैं। इसके अतिरिक्त, ये खाद्य पदार्थ समग्र स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। बत्रा के मुताबिक, अगर आप स्वस्थ त्वचा पाने का सपना देखते हैं तो अपने आहार से इन चीजों को हटाना फायदेमंद साबित हो सकता है। आइए इन खाद्य पदार्थों के बारे में विस्तार से जानें:

आहार सोडा:
बहुत से लोग मानते हैं कि शून्य कैलोरी वाला आहार सोडा एक हानिरहित पेय है, और वजन घटाने की यात्रा पर जाने वाले लोग अक्सर इसे एक स्वस्थ विकल्प के रूप में देखते हैं। हालाँकि, बत्रा ने चेतावनी दी है कि आहार सोडा, विशेष रूप से कृत्रिम मिठास वाले सोडा का सेवन करने से गंभीर परिणाम हो सकते हैं। रिपोर्टों से पता चलता है कि आहार सोडा का अत्यधिक सेवन आंत माइक्रोबायोटा को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है, जो त्वचा के स्वास्थ्य सहित समग्र स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए, आहार सोडा के सेवन से बचने या कम करने की सलाह दी जाती है।

अधिक नमक वाले खाद्य पदार्थ:
नमक से भरपूर खाद्य पदार्थ न केवल शरीर के सोडियम स्तर को प्रभावित करते हैं बल्कि निर्जलीकरण का कारण भी बन सकते हैं। अत्यधिक सोडियम के सेवन से त्वचा में रूखापन और जीवन शक्ति की कमी हो सकती है। इसके अलावा, उच्च सोडियम स्तर त्वचा की सूजन में योगदान कर सकता है। स्वस्थ त्वचा और समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए नमक के सेवन पर ध्यान देने की सलाह दी जाती है।

अत्यधिक मीठे खाद्य पदार्थ:
बत्रा बताते हैं कि, अधिक नमक के सेवन के समान, बहुत अधिक चीनी का सेवन त्वचा के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है। मीठे खाद्य पदार्थ, विशेष रूप से उच्च ग्लाइसेमिक सामग्री वाले, ग्लाइकेशन में योगदान कर सकते हैं, एक प्रक्रिया जो कोलेजन और इलास्टिन फाइबर को कम लचीला बनाकर उम्र बढ़ने में तेजी लाती है। इससे महीन रेखाएं, झुर्रियां और अन्य त्वचा संबंधी समस्याएं जल्दी दिखने लगती हैं। युवा और स्वस्थ त्वचा बनाए रखने के लिए शर्करा युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कम करना महत्वपूर्ण है।

शराब:
अत्यधिक शराब के सेवन से त्वचा संबंधी समस्याएं जैसे मुंहासे, झुर्रियां, महीन रेखाएं और सूखापन हो सकता है। शराब का शरीर पर निर्जलीकरण प्रभाव पड़ता है, और निर्जलीकरण अक्सर त्वचा की बनावट में दिखाई देता है। इसके अतिरिक्त, शराब का सेवन मुक्त कणों के उत्पादन को बढ़ावा देता है, जो उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को तेज कर सकता है। त्वचा के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए शराब का सेवन कम करने और पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड रहने की सलाह दी जाती है।

निष्कर्षतः, स्वस्थ त्वचा प्राप्त करने और बनाए रखने में केवल त्वचा देखभाल दिनचर्या से कहीं अधिक शामिल है। संतुलित और पौष्टिक आहार त्वचा के अंदरूनी स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आहार सोडा, उच्च नमक वाले खाद्य पदार्थ, अत्यधिक मिठाई और शराब के सेवन से परहेज या कम करके, व्यक्ति अपनी त्वचा की समग्र भलाई में योगदान दे सकते हैं। स्वस्थ, चमकती और युवा त्वचा के सपने को साकार करने में जानकारीपूर्ण आहार विकल्प बनाने से काफी मदद मिल सकती है।

Covid Update: बीते 24 घंटों में देश में 702 नए केस दर्ज, सक्रीय मामलों की संख्या 4000 के पार

मर चुकी पत्नी को पति ने कर दिया जिंदा, मामला जानकर आपके भी उड़ जाएंगे होश

'हार्ट अटैक' के लिए वरदान साबित होगी 7 रुपये की 'राम किट', तुरंत सेवन से बचेगी जान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -