'मस्जिद में जा सकती हैं महिलाएं..', अरफ़ा खानुम ने डाला वीडियो, मुस्लिमों ने लगाया 'बेहयाई' का आरोप

नई दिल्ली: मस्जिदों में मुस्लिम महिलाओं को प्रवेश की इजाजत न होने को लेकर चल रही बहस के बीच द वायर (The Wire) की पत्रकार आरफा खानम शेरवानी ने 29 अप्रैल, 2022 (शुक्रवार) को एक ट्वीट किया था। इस ट्वीट में उन्होंने कुछ तस्वीरों और विजुअल के जरिए ये बताने की कोशिश की थी कि मस्जिदों में मुस्लिम महिलाओं को प्रवेश और नमाज़ की इजाजत है। जामा मस्जिद की वीडियो को ट्वीट करते हुए उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर तंज भी कसा था।

 

वीडियो के साथ अरफ़ा ने लिखा था कि, 'क्या संघी बनने के लिए बुद्धि स्तर कम होना चाहिए ? हाँ, मुस्लिम महिलाएँ मस्जिद के भीतर जा कर रोजा-इफ्तारी कर सकती हैं और नमाज़ भी पढ़ सकती हैं। मस्जिदों में मुस्लिम महिलाओं के लिए कोई प्रतिबन्ध नहीं है। इस वीडियो में दिल्ली की जामा मस्जिद में महिलाएँ नमाज़ से पहले वज़ू कर रही हैं।' आरफा के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूज़र्स उन्हें ट्रोल करने लगे हैं। @yogendrapbh नाम के हैंडल से योगेंद्र ने लिखा, 'मोहतरमा, आप सच्चाई को छुपा नही सकती हैं। आपके धर्म में महिलाओं का क्या ओहदा है, उनको क्या समझा जाता है, यह दुनिया से छिपा नहीं है। बेहतर होगा आप अपने समाज की महिलाओं के लिए आवाज उठाइए और हिन्दू महिलाओं की तरह उनको भी पुरुषों के समान अधिकार दिलाएँ।' इसके साथ ही योगेंद्र ने #UCC का भी इस्तेमाल किया है। 

वहीं कुछ मुस्लिम सोशल मीडिया यूज़र्स भी आरफा को ट्रोल कर रहे हैं। तारिक नामक एक यूजर ने मस्जिद में महिलाओं को आना गलत बताते हुए आरफा पर कैमरे के आगे फोटग्राफी करवाते हुए बेहयाई फैलाने का इल्जाम लगा दिया। मोहम्मद नसीम शेख मंसूरी ने आरफा के ट्वीट पर सवाल उठाते हुए लिखा है कि, हमारे इस्लाम में मुस्लिम महिला को मस्जिद में नमाज़ पढ़ने से ज्यादा घर में नमाज़ पढ़ने का सवाब है? और हमारे इस्लाम में महिला को पर्दे का हुकूम दिया गया है, तो फिर हमारे मुस्लिम महिलाएं क्यों ऐसा कर रही हैं? क्यों अल्लाह की नाफ़रमानी कर रहे हैं? वहीं, नूर इलाहबादी ने लिखा है कि, 'आरफा जी आप ने कभी वजू किया है? तो वीडियो डालने से पहले ये तो देख लेती की जिस औरत का वीडियो बन रहा है वो पहले "पैर धुल रही है फिर मुंह फिर वसा". वैसे इस वीडियो को पोस्ट करने के लिऐ कितने रुपए मिले.?'

आंध्र प्रदेश में स्थानीय नेता की हत्या से भड़के ग्रामीण, विधायक पर क़त्ल का आरोप लगाकर किया हमला

इफ्तार पार्टी के विरोध में BHU के स्टूडेंट्स ने मुंडवाया सिर, कुलपति आवास पर छिड़का गंगाजल

एक पहल ऐसी भी: अब स्वदेशी Koo ऐप के साथ करें चारों धाम की यात्रा

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -