यौन उत्पीड़न की शिकायत करने और महिलाओ की सहायता के लिए पेश किया जा रहा है यह एप

यौन उत्पीड़न की शिकायत करने और महिलाओ की सहायता के लिए पेश किया जा रहा है यह एप

देश में महिलाएं के ऊपर बढ़ते यौन दुर्व्यवहार की शिकायत अब एक एप के जरिए आसानी से कर सकते है । इसके लिए उन्हें अब थाने का चक्कर नहीं लगाना पड़ सकता है। इस एप के तहत  महिलाएं कानूनी सहायता ले सकेंगी और साथ ही उन्हें मेडिकल सुविधाएं भी दी जाएंगी। इस एप के तहत महिलाएं उन मुद्दों की रिपोर्टिंग भी क सकेंगी जिनकी रिपोर्टिंग आपतौर पर नहीं हो पाती है।
 
अगले सप्ताह लॉन्च होगा एप
इस एप का नाम स्पैशबोर्ड (Smashboard) है जो कि पूरी तरह से प्राइवेट और इंक्रिप्टेट होगा। इस एप के जरिए यौन पीड़ित महिलाएं फोटो, स्क्रीनशॉट, कोई डॉक्यूमेंट, वीडियो और ऑडियो सबूत के तौर पर सेव कर सकेंगी। इसकी जानकारी इस एप के को-फाउंडर नूपूर तिवारी ने एक न्यूज एजेंसी को दी। इस एप के तहत पीड़ितों को मेडिकल के साथ-साथ कानूनी मदद मिलेगी। तिवारी के अनुसार स्मैशबोर्ड एप यूजर की लोकेशन को ट्रैक नहीं करेगा। साथ ही डाटा के साथ किसी तरह की कोई छेड़छाड़ नहीं हो सकती है ।

महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देशों की सूची में भारत सबसे ऊपर
थॉमसन रॉयटर 2018 के सर्वे के अनुसार महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देशों की लिस्ट में भारत सबसे ऊपर है। वहीं भारत सरकार के ताजा आंकड़ों के अनुसार साल 2017 में महज 90 दिनों में रेप की 32,500 शिकायतें दर्ज की गई हैं। भारत में धीमी कानूनी प्रक्रिया के कारण भी कई केस दर्स ही नहीं होते है । इसके साथ ही शिकायत करने वाली महिलाओं पर हमले भी होते हैं। ये बातें मानवाधिकार के लिए काम करने वाले एक सदस्य ने कही।

Realme 5i की पहली सेल की हुई शुरुआत, जानें आकर्षक ऑफर्स

शानदार फीचर्स के साथ लॉन्च हुआ यह स्मार्टफोन, कैमरे की खासियत जान हो जाएंगे हैरान

भारत में शानदार डिस्काउंट के साथ लॉन्च हुआ, वायरलेस हेडफोन