Share:
'आफताब श्रद्धा की तरह मुझे भी मारकर मेरे टुकड़े-टुकड़े कर सकता था', नयी गर्लफ्रेंड का खुलासा
'आफताब श्रद्धा की तरह मुझे भी मारकर मेरे टुकड़े-टुकड़े कर सकता था', नयी गर्लफ्रेंड का खुलासा

नई दिल्ली: श्रद्धा मर्डर केस में हर घंटे एक के बाद एक चौकाने वाले और नए-नए खुलासे हो रहे हैं। आपको बता दें कि पुलिस ने उस हथियार को बरामद कर लिया है जिससे आफताब अमीन पूनावाला ने मर्डर के बाद शव के टुकड़े किए थे। हालाँकि इन सभी के बीच पुलिस के हाथ एक और बड़ी कामयाबी लगी है। जी दरअसल पुलिस ने आफताब की उस नई गर्लफ्रेंड को भी ढूंढ निकाला है जो श्रद्धा के मर्डर के सिर्फ 12 दिन बाद आफताब के संपर्क में आई थी। आपको बता दें कि आफताब की इस नई गर्लफ्रेंड ने पुलिस के सामने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं।

चाय पीने जा रहे चालक पर चढ़ गया अनियंत्रित ट्रक, NH पर लगा भयंकर जाम

जी दरअसल पुलिस को उसके पास से श्रद्धा की एक अंगूठी भी मिली है जिसे मर्डर के बाद आफताब ने उसे गिफ्ट की थी वो भी तब जब वो उससे मिलने छतरपुर वाले फ्लैट गई थी। अब खुलासा हुआ है आफताब की ये नई गर्लफ्रेंड उसके वहशीपने की दास्तान सुनकर पूरी तरह से शॉक्ड है। जी दरअसल उसको लग रहा है कि आफताब श्रद्धा की तरह उसे भी मारकर उसके टुकड़े टुकड़े कर सकता था। आपको बता दें कि आफताब की ये नई गर्लफ्रेंड जब उससे मिलने उसके फ्लैट पर गई थी तो उस दौरान श्रद्धा के शव के टुकड़े वहां मौजूद थे लेकिन आफताब ने उसे घर में बॉडी पार्ट्स के होने की भनक तक नहीं लगने दी। जी दरअसल आफताब की ये नई गर्लफ्रेंड पेशे से साइकेट्रिस्ट है।

बीते 18 मई को श्रद्धा का मर्डर करने के बाद 30 मई को डेटिंग एप के ज़रिए आफताब ने इस लड़की से दोस्ती की और फिर अक्टूबर के महीने उसे अपने छतरपुर वाले फ्लैट पर बुला लिया। आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस की टीम ने आफताब की इस नई डॉक्टर गर्लफ्रेंड से काफी देर तक सवाल जवाब किए। आपको बता दें कि आफताब तकरीबन 15 से 20 लड़कियों के सम्पर्क में अलग-अलग डेटिंग साइट्स के जरिए था। हालाँकि जांच में पुलिस को बंबल ऐप के जरिए एक ऐसी लड़की के बारे में जानकारी मिली जो श्रद्धा की हत्या के करीब 12 दिन बाद यानी 30 मई को आफताब के संपर्क में बंबल ऐप के जरिए आई थी। यह लड़की पेशे से साइकेट्रिस्ट है, जब पुलिस को पता लगा कि ये लड़की कत्ल के बाद से आफताब के संपर्क में थी तो इससे पुलिस ने पूछताछ की। आफताब की इस दोस्त ने पुलिस को बताया कि आफताब के बिहेवियर से कभी ऐसा नही लगा कि उसकी मनोस्थिति खराब है।

'रावण और शकुनि जैसे शब्दों का इस्तेमाल होता है लेकिन कसाब बोला तो मुद्दा बन गया', बोले शिक्षा मंत्री

इसी के साथ उसने पुलिस को बताया कि इसकी आफताब से बातचीत मई महीने में बंबल ऐप के जरिए शुरू हुई और ये पहली बार आफताब के फ्लैट पर 12 अक्टूबर को गई थी, आफताब ने इसे अपने छतरपुर फ्लेट पर बुलाया था और दोनों ने साथ में फ्लैट पर वक्त बिताया था। आगे आफताब की इस दोस्त ने बताया कि आफताब का स्वभाव उसको बिल्कुल नार्मल और बहुत ज्यादा केयरिंग लगा था। आफताब के पास कई तरह की वैरायटी के डियोड्रेंट और परफ्यूम का कलेक्शन रहता था और अक्सर वह नयी लड़की दोस्त को परफ्यूम गिफ्ट भी दिया करता था।

उसने बताया कि वो अक्टूबर के महीने में दो बार आफताब के फ्लैट पर आई थी पर उसे श्रद्धा की हत्या या घर मे बॉडी पार्ट्स होने की हल्की सी भनक नही लगी। आफताब कभी भी डरा सहमा नजर नहीं आया, वो अक्सर अपने मुंबई के घर के बारे में बताता था और वो सितंबर में मुंबई गया था तो वहां के बारे में भी बताता था। आफताब ने अपनी इस दोस्त को एक फैंसी अंगूठी गिफ्ट की थी जो सोने की नहीं थी बल्कि आर्टिफिशियल थी।

ये अंगूठी आफताब ने 12 अक्टूबर को गिफ्ट के तौर पर इस नई दोस्त को दी थी। ये अंगूठी श्रद्धा की थी। फिलहाल आफताब की ये दोस्त बेहद घबराई हुई है। उसे बहुत हैरानी हो रही है जिस तरह आफताब इसकी देखभाल और चिंता करता था इसे कभी नही लगा कि आफताब इतने वहशी तरीके से किसी की जान ले सकता है।

सलमान खान ने कर ली सगाई!, तस्वीरें हो रहीं हैं वायरल

बैंक के नियम में हुआ बड़ा बदलाव, जरूर पढ़ ले ये खबर

'मेरी सहेली की शादी हो रही है, उसे बचा लो', पुलिस को फोन कर बोली 13 वर्षीय मासूम

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -