ओवैसी का विरोध कर मुसलमानों को कहना चाहिए भारत माता की जय

मुंबई : शिवसेना ने भारत माता की जय के विवाद को लेकर अपने मुखपत्र सामना के माध्यम से लेख लिखा है, जिसमे दरअसल आॅल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर टिप्पणी की गई है। दरअसल सामना में यह भी लिखा गया है कि जो लोग भी भारत माता की जय के जयकारे नहीं लगाते हैं उनकी नागरिकता रद्द हो जाना चाहिए।

सामना में प्रकाशित किए गए लेख के अनुसार यह दर्शाया गया है कि भारत माता की जयकारे नहीं लगाने वालों को मतदान करने का अधिकार तक नहीं दिया जाना चाहिए। दरअसल ओवैसी ने महाराष्ट्र में विवादित उद्बोधन देते हुए भारत माता की जयकार कहने से इन्कार किया। उसे लेकर शिवसेना ने महाराष्ट्र राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर भी निशाना साधा।

इस दौरान उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है लेकिन इसके बाद भी ओवैसी भारत माता का अपमान करते हैं और यहां से वापस चले जाते हैं। सामना में प्रकाशित लेख के माध्यम से कहा है कि मुसलमानों को भी ओवैसी की इस बात का विरोध करना चाहिए कि वे भारत माता की जय क्यों नहीं कहते हैं। ऐसे में मुसलमानों को भी भारत माता की जय के जयकारे लगाने चाहिए। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -