खुबसुरती की मिसाल पेश करती जिंदा-दिल शायरियां

तुझे देखा तो ऐसा लगा जन्नत की सैर हो गयी हो जैसे,
समझ नहीं आता तुझ पर से नजरे हटाउ तो हटाउ कैसे.


आप के हर अदा पर दुनिया दीवानी हैं,
लेकिन तू सिर्फ मेरी मस्तानी हैं.


इंतजार करने का मज़ा ही अलग हैं,
देर से प्यार करने का मज़ा ही अलग हैं,
और आप के बिना मेरी भी अलग हैं.


आप की खूबसूरत अदा ने कर दिया मुझे घायल,
बस अब जान मत लो मेरी हिलाकर अपनी पायल.


कितना वक्त लगा होगा खुदा को भी तुझे बनाने के लिए,
इसीलिए लोग तरस ने लगे तुझे पाने के लिए.


सांस लेता हूं तो तेरी खुशबू आती हैं,
फिर से तेरी याद बड़ा सताती हैं,
कितना भूलना चाहता हूं तुझे,
फिर से तेरी ख़ूबसूरती याद आती हैं.


जब तुझे देखा तो हवा में उड़ने लगा,
तू चली गयी हवा भी रुक गयी,
और मैं बेचैन होने लगा.


डूबना चाहता हूं आप की मोहब्बत के समंदर में,
पता चला हमारे लिए जगह ही नही हैं मोहब्बत के घर में.


अँधेरे को तेरी ख़ूबसूरती ने रोशन किया होगा,
अँधेरे को शायद तेरा ही इंतजार होगा.


चाँद भी शायद तुझे छुप कर देखता होगा,
हाँ इसीलिए चाँद भी कभी-कभी आधा आता होगा.


अगर खुदा खूबसूरत जैसी कोई चीज़ न बनता,
तो इन आँखों को ठंडक कैसे मिलती.

अपने हॉट फोटोशूट के कारण लोगों की जुबां पर चढ़ा इस एक्ट्रेस का नाम

IPL 2018: इस खिलाड़ी को एक रन बनाने के लिए मिले 6 लाख 80 हजार रूपए

बिन बाप की बेटी है यह फेमस फैशन डिज़ाइनर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -