शायरी: मोहब्बत में तेरा-मेरा साथ

1.चल चलें ऐसी जगह जहाँ कोई न तेरा हो न मेरा हो,

इश्क़ की रात हो और बस मोहब्बत का सवेरा हो।

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -