'देश से BJP नाम के संकट को दूर करना है': शरद पवार

मुंबई: महाराष्ट्र में केंद्रीय जांच एजेंसियों की तरफ से शुरू छापेमारियों के दौर को लेकर एनसीपी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने एक बार फिर से बीजेपी को अपने निशाने पर लिया है। जी दरअसल हाल ही में शरद पवार ने कहा, 'केंद्र सरकार द्वारा महाराष्ट्र को मुश्किलों में डालने की कोशिशें की जा रही हैं। ED, CBI, Income Tax Dept। जैसी मशीनरियों के माध्यम से परेशान किया जा रहा है। ईडी, सीबीआई, आयकर विभाग ने पहले अन्य लोगों को परेशान किया। अब अजित पवार (Ajit Pawar) और उनकी बहन को परेशान किया जा रहा है।' उन्होंने यह भी कहा, 'केंद्र सरकार की सभी मशीनरियां राज्य सरकार को परेशान करने के लिए ही इस्तेमाल में लाई जा रही हैं। राज्य सरकार में शामिल कई लोगों को परेशान किया गया। जब देखा गया कि इसका कोई असर नहीं हुआ तो अब बड़ा हाथ मारने के चक्कर में अजित पवार और उनके परिवार से जुड़े ठिकानों पर छापेमारियां शुरू की गईं। लेकिन ईडी-फिडी या कुछ भी आने दो, यह सरकार नहीं गिरेगी।'

इसी के साथ उन्होंने कहा, 'सत्ता उनके हाथ में है, इसलिए वे ये सब कर रहे हैं। लेकिन यह ज्यादा दिनों तक चलने वाला नहीं है। देश में बीजेपी नाम का जो संकट आया है, उसे दूर करना है।' वहीं उसके बाद उन्होंने पुणे से सटे पिंपरी-चिंचवड की सभा में केंद्र की मोदी सरकार को अपने निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, 'जिनके हाथ में सत्ता दी, उन्होंने शहर का बंटाधार कर दिया। उन्हें गड्ढ़ों की तरह बगल में कर दें। जिन्होंने शहर को बनाया है, उस एनसीपी के हाथ एक बार फिर से सत्ता दें।'

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि, ‘महाराष्ट्र की जनता के सुख-दु:ख के बारे में केंद्र सरकार को समझाने के लिए मैं जिले-जिले में जा रहा हूं। पेट्रोल-डीजल, गैस की कीमतें इतनी बढ़ गई हैं कि अपनी माताओं और बहनों का बजट बिलकुल गड़बड़ा गया है। जब मनमोहन सिंह की सरकार थी तब आज जो लोग सत्ता में हैं, वे लोग आंदोलन करते हुए लोकसभा को चलने नहीं दे रहे थे। पी. चिदंबरम ने आज के अपने लेख में बताया है कि केंद्र सरकार अगर अपने टैक्स 25 फीसदी कम कर दे तो पेट्रोल-डीजल की कीमतों को नियंत्रित किया जा सकता है। लेकिन केंद्र सरकार ऐसा करने को तैयार नहीं है।’

आईएमडी ने लगाया उत्तराखंड में भारी बारिश का अनुमान, रेड अलर्ट किया जारी

मानव संसाधन और सीई विभाग ने कहा- "केवल हिंदू ही शिक्षण और गैर-शिक्षण पदों के लिए प्रतिस्पर्धा..."

प्ले स्कूल आंगनबाडी के कर्मचारियों को 1 नवंबर से पहले लगवाना होगा कोरोना का टीका

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -