मतदाताओं की थाह लेने के लिए राहुल बनेंगे बावर्ची!

गाजियाबाद : क्या आपने फिल्म बावर्ची में रघु नामक पात्र देखा है। सुपर स्टार राजेश खन्ना अभिनीत इस फिल्म में रघु अर्थात राजेश खन्ना कई घरों  में काम कर जीवन का दर्शन और कई कलाऐं सीख लेते हैं। लगता है अब राहुल गांधी कांग्रेस के बुरे दौर से परेशान हो गए हैं। उनका अपनी कंपनी में भी मन नहीं रम रहा है। लोगों के मन की थाह लेने के लिए वे उत्तरप्रदेश के घरों में काम करने जा रहे हैं। उत्तरप्रदेश राज्य में एक विवादास्पद मामला सामने आया है। इस मामले में साफतौर पर पुलिस की लापरवाही नज़र आ रही है। यह जहों आश्चर्य में डालने वाला है वहीं सुरक्षा और कानून व्यवस्था के मामले में पुलिस की लापरवाही को उजागर करता है।

दरअसल यहां एक नौकर के वेरिफिकेशन फॉर्म में राहुल गांधी के नाम और फोटो को पुलिस ने वेरिफाय कर दिया है। यानि मिली जानकारी के अनुसार राहुल गांधी के नाम और फोटो को पुलिस ने वेरिफाई कर दिया। यह मामला इंदिरापुरम थाने की शिप्रा चौकी की मुहर इस फॉर्म पर लगी हुई है। दरअसल पुलिस ने एचआरसी सोसायटी के जिस फ्लैट के लिए पुलिस ने राहुल गांधी को बतौर नौकर वेरिफाई किया है उस फ्लैट के मालिक ने किसी भी तरह का फॉर्म अप्लाय नहीं किया था।

दरअसल इस फॉर्म पर नौकर का नाम राहुल गांधी, पिता का नाम स्वर्गीय राजीव गांधी और मूल निवास मकान नंबर 12 तुगलक लेन, नई दिल्ली लिखा है। इसके बाद भी जांच के सत्यापन की मुहर लगा दी गई है। दरअसल इंदिरापुरम की सोसायटी एचआरसी प्रोफेशन में घरेलू सहायक के लिए उनके सत्यापन फॉर्म का निरीक्षण चल रहा था। इस दौरान यह फॉर्म सामने आया। दरअसल इस फॉर्म में राहुल गांधी का फोटो लगा था। सोसायटी स्टाफ को जैसे ही यह जानकारी मिली और उन्होंने राहुल का फोटो देखा तो वहां हड़कंप मच गया। अब इस मामले में पुलिस अधिकारियों से शिकायत की गई है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -