2011 विश्व कप फाइनल में राष्ट्रगान गाना मेरे करियर का सबसे गौरवपूर्ण पल : सचिन

Jan 25 2016 10:53 AM
2011 विश्व कप फाइनल में राष्ट्रगान गाना मेरे करियर का सबसे गौरवपूर्ण पल : सचिन

मुंबई : मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने कहा कि 2011 विश्व कप फाइनल से पूर्व दर्शकों से खचाखच भरे वानखेड़े स्टेडियम में राष्ट्रगान गाना उनके करियर का सबसे गौरवपूर्ण पल था. तेंदुलकर ने कहा कि लेकिन राष्ट्रगान गाना अलग स्तर पर चला गया था, जब हम 2003 विश्व कप सेंचुरियन में पाकिस्तान के खिलाफ खेल रहे थे.

तेंदुलकर ‘द स्पोर्ट हीरोज’ एल्बम के विमोचन के मौके पर तेंदुल्कर ने कहा कि जब आप ‘जन गन मन’ गा रहे हो तो आपका सिर हमेशा उंचा रहता है लेकिन जब आप मैदान के बीच में खड़े होकर ऐसा करते हो तो आपका सीना चौड़ा हो जाता है. उन्होंने कहा कि मेरे इससे जुड़े कुछ अनुभव हैं. एक पाकिस्तान के खिलाफ हैं दूसरा जब हम विश्व कप 2011 फाइनल खेल रहे थे, मैं उस अनुभव को कभी नहीं भुला सकता. पूरा स्टेडियम जन गन मन गा रहा था और यह अब भी मेरे कानों में गूंजता है. यह मेरे जीवन का सबसे गौरवपूर्ण अहसास था. 

मास्टर ब्लास्टर ने कहा कि हम कई निजी उपलब्धियां हासिल करते हैं. टीम उपलब्धियां हासिल करती है लेकिन जब हमारे राष्ट्रगान की बात आती है तो सभी चीजें पीछे चली जाती हैं. तेंदुलकर 2011 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे. भारत ने फाइनल में श्रीलंका को हराकर 28 साल बाद खिताब जीता था. इस वर्ल्डकप में युवराज सिंह ने यादगार प्रदर्शन किया था.

‘द स्पोर्ट हीरोज’ वीडियो का निर्देशन अभिजीत पानसे ने किया है. इसमें 8 जानी मानी खेल हस्तियों ने राष्ट्रगान गाया है जिसमें तेंदुलकर, सुनील गावस्कर, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, महेश भूपति, महान हाकी खिलाड़ी धनराज पिल्लै, फुटबाल स्टार बाईचुंग भूटिया, ओलंपिक पदक विजेता निशानेबाज गगन नारंग और 2 बार के ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार शामिल हैं. इसका लांच इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट आफ स्पोर्ट्स मैनेजमेंट ने किया गया. इस अवसर पर पिल्लै और बालीवुड अभिनेता रितेश देशमुख भी मौजूद थे.