'राजस्थान से अशोक गहलोत को तुरंत हटाएँ, वरना पंजाब जैसा होगा हाल...', गांधी परिवार को पायलट की चेतावनी

जयपुर: राजस्थान कांग्रेस में एक बार फिर से सियासी खींचतान शुरू हो गई है। सीएम अशोक गहलोत और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट के बीच की टकराव की खबरें एक बार फिर मीडिया में आने लगी हैं। सूत्राें का दावा है कि राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने सोनिया गाँधी से मुलाकात कर अशोक गहलोत को CM पद से हटाने की माँग की है। वहीं, इधर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस ज्वाइन न करने के पीछे की वजह भी अशोक गहलोत ही बताए जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सचिन पायलट ने बीते दिनों गाँधी परिवार के साथ तीन बैठकें की है। बताया जा रहा है कि इस दौरान पायलट ने कांग्रेस हाईकमान से कहा कि गहलोत को हटाने में देर करने पर राजस्थान में पंजाब जैसी स्थिति पैदा हो जाएगी। सूत्रों का यह भी कहना है कि सचिन पायलट ने सोनिया से खुद को मुख्यमंत्री बनाने की माँग भी की है। सचिन पायलट ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी से स्पष्ट कहा है कि अगर राजस्थान में कॉन्ग्रेस सरकार रिपीट करनी है तो अशोक गहलोत को सीएम पद से हटाना ही होगा। 

पायलट से पहले सोनिया गाँधी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को नई दिल्ली में मिलने बुलाया था। वहीं पाँच दिन पहले ही 23 अप्रैल को राजधानी जयपुर में राजस्व सेवा परिषद के जयपुर में एक कार्यक्रम में सीएम गहलोत ने कहा था कि उनका इस्तीफा तो 1998 से परमानेंट सोनिया गाँधी के पास रखा हुआ है। जब CM बदलना होगा तो किसी को कानो-कान खबर तक नहीं होगी। यह काम रातों-रात हो जाएगा। इस पर कोई चर्चा और विचार-विमर्श नहीं होगा। सोनिया गाँधी फैसला लेने के लिए आज़ाद है। इसलिए अफवाहों पर ध्यान न दें।

'जो खुद CM नहीं बन सके, वो मुझे क्या PM बनाएँगे ?', मायावती ने अखिलेश यादव पर कसा तंज

पंजाब CM भगवंत मान सहित कई नेताओं को जान से मारने की धमकी, जैश-ए-मोहम्मद ने लिखी चिट्ठी

मोहम्मदपुर बन गया माधवपुर.., अब 40 अन्य गाँवों के नाम बदलने के लिए भाजपा ने तेज की कवायद

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -