सचिन को मिल गया बचपन का दोस्त

सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली के बीच अब सारी शिकायते दूर हो गयी है, आठ साल के लम्बे समय के बाद दोनों क्रिकेटरों ने एक दूसरे को गले भी लगाया. मीडिया से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि ''हां, हमारे बीच अब सब कुछ ठीक है, इसके लिए मैं खुश हूं. हमने एक-दूसरे को गले लगाया और बात की''. कांबली और सचिन बहुल करीबी दोस्त है, दोनों एक ही स्कूल में पढ़े थे और एक ही कोच रमाकांत आचरेकर से ट्रेनिंग ली थी.

उल्लेखनीय है कि सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली बचपन के दोस्त है. लेकिन दोनों की दोस्ती में 2009 से कड़वाहट आ गयी थी, जिसका कारण कांबली का दिया गया एक बयान था. कांबली ने जुलाई, 2009 में एक टीवी शो में कहा था कि सचिन ने उन्हें क्रिकेट में वापसी के लिए मदद नहीं की. इस बात से सचिन काफी नाराज हुए और तब से दोनों के बीच कोई बातचीत देखने को नहीं मिली. आठ साल के लम्बे समय के बाद कांबली ने कहा कि अब सबकुछ ठीक हो गया है.

बता दे कि बचपन के दो खिलाड़ियों के बीच सब कुछ ठीक हो गया, जिन्होंने स्कूल क्रिकेट के दौरान नॉट आउट 664 रन की पार्टनरशिप का रेकॉर्ड भी बनाया था. सचिन अब क्रिकेट से सन्यास भी ले चुके है.

सचिन तेंदुलकर ने की विराट की जमकर तारीफ

सचिन के बेटे की गेंदबाज़ी के सामने झुके विराट

वीरू के बर्थडे पर स्पेशल 'Wishes'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -