पेपर लीक रोकने के लिए RRB ने किये कई प्रावधान

देश में परीक्षाओं के पर्चे लीक होना आम बात है. यहाँ की रेलवे भर्ती परीक्षा भी इससे अछूती नहीं है. इन्ही घटनाओं को मद्देनजर रखते हुए रेलवे बोर्ड ने अपने एग्जाम पैटर्न्स में बदलाव करने का निर्णय लिया है.इसके अंतर्गत अब रेलवे में भी आईएएस और पीसीएस परीक्षाओं की तरह पहले प्री परीक्षा फिर चुने गए उम्मीदवारों की मुख्य परीक्षा होंगी. ध्यान देने योग्य बात है कि पिछले दिनों हुई आरआरबी की नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (एनटीपीसी) की परीक्षा में पास हुए कैंडिडेट्स को भी एक और मुख्य परीक्षा से गुजरना होगा.

देश की राजधानी में पिछले महीने हुई रेलवे बोर्ड की बैठक में भर्ती बोर्ड के सभी चेयरमैनों ने सुझाव मांगे गए थे. इन सुझावों में ही इस बदलाव के सम्बन्ध में सुझाव दिए गए थे. रेलवे बोर्ड सूत्रों के मुताबिक सभी उम्मीदवारों की प्री परीक्षा बाद मुख्य परीक्षा के लिए 10% उम्मीदवारों को ही चुना जाएगा. इस बैठक में पेपर लीक की घटनाओं को रोकने के लिए एक और कदम उठाने का निर्णय लिया गया है.

इस निर्णय के अनुसार परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों का सर्वे कर उन परीक्षा केंद्रों को चिन्हित किया जाएगा जहां पिछली परीक्षा में पर्चा लीक हुआ है, और उन केंद्रों को इस बार परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाएगा. अन्य निवारणों में परीक्षा केंद्र के सारे कंप्यूटर एक दिन पहले आरआरबी की निगरानी में लेकर इन्हें सील कर पॉवर ऑफ कर दिया जाना, ऑनलाइन परीक्षा के लिए उपयोग किये जाने वाले कम्प्यूटर्स पर एक खास सॉफ्टवेयर इनस्टॉल किया जाना जो उस कंप्यूटर पर चल रहे दूसरे सॉफटवेयर/एप को खुद ही सर्च कर लेगा आदि सम्मिलित किये गए है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -