मोदी ने दिया नीतीश के मुस्लिम आरक्षण का सबूत

गोपालगंज​ : बिहार विधानसभा चुनाव के 4 थे चरण के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने प्रचार की रणनीति बदल ली है। इस दौरान राजनीतिक विश्लेषकों द्वारा यह कहा जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी का प्रचार अलग हो गया है। अब पार्टी ने आक्रामक रूख अपनाते हुए अपने प्रचार को सांप्रदायिक स्वरूप में बदल दिया है। ऐसे में भाजपा ने जनता परिवार महागठबंधन को मुस्लिमों को प्रसन्न करने के लिए तौर तरीके अपनाने वाला बताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गोपालगंज में चुनावी आम सभा को संबोधित किया।

जिसमें उन्होंने कहा कि लालू और नीतिश ने तो दलितों और पिछड़ों का आरक्षण हटाकर मुस्लिमों को देने का प्रयास किया है। बिहार के गोपालगंज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में दिए अपने उद्बोधन का उल्लेख करते हुए कहा कि नीतिश के भाषण का पर्चा वहां लहराया गया है। नीतिश संप्रदाय विशेष हेतु आरक्षण पर बोलकर वोट बैंक बना रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी एक अन्य रैली में उन पर संप्रदाय विशेष को आरक्षण उपलब्ध करवाने की बात कही। 

भारतीय जनता पार्टी के नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इस मसले पर टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की नज़र एक समुदाय विशेष के वोट बैंक पर है। बिहार को आतंकियों की पनाहगाह बना दिया गया है। यही नहीं बिहार में आतंकवाद पनप रहा है। आखिर लालू और नीतिश ने देश को खतरे में डालने का प्लान बनाया है क्या। उल्लेखनीय है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी अपने उद्बोधन में कहा था कि लालू-नीतिश ने बिहार में आतंकवाद को पनपाया है। यदि महागठबंधन जीतता है तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -