ISL के दौरान चोटिल न होना अहम : सुनील छेत्री

मुंबई : इंडियन सुपर लीग (ISL) की फ्रेंचाइजी मुंबई सिटी एफसी के दिग्गज स्ट्राइकर सुनील छेत्री का यह कहना है की  पूरे टूर्नामेंट के चलते चोट ना लगना किसी भी खिलाड़ी की पहली प्राथमिकता होती है। इंडियन सुपर लीग (ISL) का दूसरा संस्करण 2 अक्टूबर से आयोजित होने वाला है।

भारत की राष्ट्रीय टीम के कप्तान और दिग्गज स्ट्राइकर सुनील छेत्री को मुंबई सिटी एफसी ने खिलाड़ियों की नीलामी के दौरान टीम में लिया गया है। दिग्गज स्ट्राइकर सुनील छेत्री का कहना है कि मुंबई की टीम में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के शीर्ष खिलाड़ी मौजूद हैं, जो न सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के लिए मददगार साबित होंगे, बल्कि दूसरे देशो के खिलाड़ियों के लिए भी।

दिग्गज स्ट्राइकर सुनील छेत्री ने पत्रकारों से कहा, "पहली बार  इंडियन सुपर लीग (ISL) का हिस्सा बनकर खुश हूं। हमारी टीम में कई शानदार प्रदर्शन करने वाले अनुभवीय खिलाडी है और मैं उनके साथ एक टीम के तौर पर खेलने को उत्सुक हूं। हमने दुबई में अच्छा प्रशिक्षण सत्र बिताया।"

छेत्री ने कहा, "हमें इस बात को सर्वाधिक अहमियत देनी होगी कि हमें पूरे टूर्नामेंट के दौरान चोटिल नहीं होना है और पूरी तरह फिट रहना है।"

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -