रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रचा इतिहास, तोड़ा बाजार पूंजीकरण का रिकॉर्ड

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रचा इतिहास, तोड़ा बाजार पूंजीकरण का रिकॉर्ड

बुधवार को मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने फिर इतिहास रच दिया है। एक स्टार्टअप के तौर पर आरम्भ की गई रिलायंस आज देश की सबसे अनमोल कंपनी है। रिलायंस का मार्केट पूंजीकरण बुधवार को व्यवसाय के दौरान 16 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े के पार चला गया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2।2 फीसदी की वृद्धि के साथ 2,368 रुपये पर पहुंच गया। यह इसका सर्वकालिक हाई लेवल है। 

वही आखिर में यह 0।26 फीसदी की बढ़त के साथ 2,324।90 रुपये पर बंद हुआ तथा कंपनी का मार्केट पूंजीकरण 15।33 लाख करोड़ पर पहुंच गया। कंपनी के शेयर में बीते छह माहों से कम वक़्त में 173 फीसदी से अधिक रफ़्तार आ चुकी है। वही 18 अक्टूबर 2019 में रिलायंस नौ लाख करोड़ रुपये के मार्केट पूंजीकरण वाली कंपनी बन गई थी। यह देश की प्रथम कंपनी थी जिसका मार्केट पूंजीकरण नौ लाख करोड़ रुपये हुआ था।

साथ ही 28 नवंबर 2019 को रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट पूंजीकरण 10 लाख करोड़ के पार चला गया था। जबकि उससे बीते हफ्ते कंपनी की हैसियत 9।50 लाख करोड़ रुपये थी। भारत के दिग्गज व्यवसायी मुकेश अंबानी की कंपनी का मार्केट पूंजीकरण 19 जून 2020 को 11 लाख करोड़ रुपये के पार हो गया। तब मुकेश अंबानी ने कच्चे आयल से लेकर दूरसंचार तक विस्तृत इलाकों में व्यवसाय करने वाली अपनी कंपनी के शुद्ध तौर पर ऋण-मुक्त होने का ऐलान किया था, जिसके पश्चात् कंपनी का हैसियत में 65 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का इजाफा दर्ज किया गया था। इसी के साथ कंपनी ने एक बार फिर इतिहास रचा है।

श्रम मंत्री ने किया दावा, कोरोना महामारी के दौरान 2 करोड़ मजदूरों को भेजे गए 5,000 करोड़ रूपये

अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए हर संभव प्रयास करेगा RBI

SBI एटीएम से पैसे निकालने का बदला नियम, 18 सितम्बर से इस तरह निकलेंगे पैसे