मतदाताओं से जुड़ने के लिए ‘धार्मिक स्थलों पर जाने के लिए मजबूर’ होना पड़ता है: राशिद अल्वी

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के मुखिया तथा दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के अयोध्या दौरे से पूर्व धार्मिक स्थलों पर जाने को लेकर राजनीती आरम्भ हो गई है। आगामी यूपी विधानसभा चुनावों के लिहाज से भी केजरीवाल के इस दौरे को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। मगर कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने इसके बहाने भाजपा पर हमला बोला है।

इसके साथ ही राशिद अल्वी ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी ने धर्म को सियासत से जोड़ा है, इसलिए अन्य दलों के नेताओं को वोटर्स से जुड़ने के लिए ‘धार्मिक स्थलों पर जाने के लिए मजबूर’ होना पड़ता है। अल्वी का यह बयान दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के यूपी के अयोध्या दौरे से पहले आया है, जो 26 अक्टूबर को प्रभु श्री राम के दर्शन करने के लिए निर्धारित है।

साथ ही अल्वी ने कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी ने अन्य दलों के नेताओं को धार्मिक स्थलों पर जाने के लिए विवश किया है क्योंकि ये धर्म को सियासत से जोड़ता है। भारतीय जनता पार्टी द्वारा आरम्भ किए जाने के पश्चात् अधिकांश नेता धार्मिक यात्राएं कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘प्रत्येक पार्टी अगले वर्ष यूपी विधानसभा चुनाव से पहले लोगों के बीच अपने भलाई में संदेश पहुंचाना चाहती है। अरविंद केजरीवाल 26 अक्टूबर को प्रभु श्री राम की पूजा करने के लिए अयोध्या जा रहे हैं। प्रत्येक पार्टी को धार्मिक तीर्थयात्रा करने की आजादी है।’

आर्यन खान केस में खुलासे के बाद शिवसेना-NCP ने किया हमला, बोले- गवाह का दावा चौंकाने वाला

रैली करने जा रहे थे विधानसभा अध्यक्ष, गायब हो गई 30 हजार की साइकिल

कबाड़ में मिले LPG सिलिंडर, कांग्रेस ने भाजपा पर उठाया सवाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -