कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन ना करने पर होगी सख्ती: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

जयपुर: कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती चली जा रही हैं। अब कोरोना संक्रमण की वृद्धि को देखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने बीते शनिवार को राज्य के लोगों का आगह किया है और कहाहै कि, 'वे कोविड-19 प्रोटोकॉल का ध्यान से पालन करें, क्योंकि ऐसा नहीं होने पर सरकार को सख्ती बरतनी पड़ेगी।'

इसके अलावा राज्य सरकार ने और चार राज्यों से राजस्थान आने वाले लोगों के लिए कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया है। आप सभी को हम यह भी बता दें कि राज्य में बीते शनिवार को भी संक्रमण के 200 से ज्यादा (233) नए मामले सामने आए हैं। अब तक कुल 3,21,356 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है। इसी बारे में जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में वह लिखते हैं, ‘‘मार्च की शुरुआत से राज्य में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले महीने प्रतिदिन 100 से भी कम मामले आ रहे थे, लेकिन अब यह संख्या रोजाना 200 से अधिक पहुंच गई है।’’

आगे अपने ट्वीट में गहलोत ने लिखा है, ‘‘आमजन से अपील है कि प्रोटोकॉल का पूर्ववत पालन करें अन्यथा सरकार को पहले की तरह सख्ती बरतनी पड़ेगी।’’ आप सभी जानते ही होंगे अब राज्य सरकार ने और चार राज्यों पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात से आने वालों के लिए भी अधिकतम 72 घंटे पुरानी कोरोना वायरस संक्रमण की आरटीपीसीआर जांच की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया है। इस बारे में प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार ने आदेश जारी किया। वहीं राज्य सरकार इससे पहले केरल और महाराष्ट्र से राजस्थान आने वाले लोगों के लिए यह अनिवार्यता लागू की थी।

एक बार फिर तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार से माँगा अविलंब इस्तीफ़ा

लखनऊ: कोल्ड स्टोरेज का गैस चैंबर फटा, 2 मजदूरों की मौत

आज है नवमी तिथि, यहाँ जानिए कब है सिद्धि योग और राहुकाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -