प्रसव के दौरान धड़ आ गया बाहर सिर रह गया अंदर, राजस्थान के डॉक्टर की बड़ी लापरवाही

Jan 11 2019 04:45 PM
प्रसव के दौरान धड़ आ गया बाहर सिर रह गया अंदर, राजस्थान के डॉक्टर की बड़ी लापरवाही

जैसलमेर: राजस्थान के जैसलमेर जिले में प्रसव के दौरान बच्चे के टुकड़े होने का मामला सामने आने के बाद सब लोग सकते में हैं. यह घटना सिर्फ बच्चे के परिजनों के ही नहीं,  बल्कि सभी लोगों के लिए भी दिल दहला देने वाली है और बच्चे के पोस्टमार्टम के बाद जो खुलासा हुआ है,  उसे जान आप बिलकुल दंग रह जाएंगे.

जम्मू कश्मीर में भारी बर्फ़बारी, देश के बाकी राज्यों से सड़क संपर्क टूटा

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि, बच्चे को प्रसव के दौरान इतनी जोर से खींचा गया था कि. नवजात के पैरों की हड्डियों में फ्रेक्चर आ गए और उसका लीवर फट गया. कंपाउडर की इस लापरवाही कि वजह से बच्चे के दो टुकड़े हो गए और नवजात मां की कोख में ही मर गया. वहीं इस मामले में जांच के आदेश जारी होने के बाद गुरुवार को सरकार ने डॉक्टर और दोनों कंपाउंडर पर कार्यवाही करते हुए उन्हें निलंबित कर दिया है.

रक्षा मंत्री पर विवादित टिप्पणी कर फंसे राहुल गांधी, राष्ट्रीय महिला आयोग ने थमाया नोटिस

आपको बता दें कि, अस्पताल में महिला के प्रसव के समय दोनों ही कंपाउडर ही प्रसव करवा रहे थे और डॉक्टर का मकान अस्पताल सटा हुआ था, लेकिन इसके बाद भी दोनों कंपाउडर ही महिला के प्रसव की कोशिश करते रहे. लेकिन प्रसव न हो पाने के कारण डॉ. जूंझार सिंह को बुलवाया गया औरइस दौरान बच्चे को इतनी जोर से खींचा गया कि बच्चे का धड़ बाहर आ गया और सिर अंदर ही रह गया. जोधपुर के अस्पताल में माँ दीक्षा कंवर अभी भी अचेत है, साथ ही उसकी स्थिति भी नाजुक बनी हुई है. 

खबरें और भी:- 

 

हर माह वेतन 35 हजार रु से अधिक, NIVH ने निकाली शानदार नौकरियां

जीएसटी काउंसिल की बैठक जारी है, कई अहम मुद्दों पर चर्चा

25 हजार रु वेतन, National oceanography ने निकाली वैकेंसी