काम से बाहर गई थी माँ, जब लौटी तो पानी की टंकी में तैर रहे थे तीनों बच्चों के शव

भीलवाड़ा: राजस्थान से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है, जहां घर के बाहर पानी के बने टैंक में एक ही घर के तीन मासूम बच्चे डूब गए. इस हादसे से दिवाली से पहले ही एक घर के सभी चिराग बुझ गए और मातम पसर गया. भीलवाड़ा जिले में बदनोर थाना क्षेत्र के एक गांव में घर के बाहर स्थित पानी के टैंक में डूबने से एक ही परिवार के तीन मासूम बच्चों की मौत हो गई. इसमें दो भाई और एक बहन शामिल हैं. लक्ष्मीपुरा कोटडा गांव में हुए दर्दनाक हादसे से पूरे गांव में गम का माहौल है.

बदनोर थाना प्रभारी विनोद कुमार मीणा ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि लक्ष्मीपुरा कोटड़ा गांव के महेंद्र सिंह रावत के घर के बाहर पानी का टैंक मौजूद था. महेंद्र सिंह मजदूरी के लिए गुजरात गया हुआ है और उसकी पत्नी किसी काम से बाहर गई थी, इसी दौरान यह हादसा हुआ. इस हादसे में महेंद्र सिंह रावत की 6 वर्षीय बेटी सीमा, 4 वर्षीय बेटे नरेंद्र और 2 साल के बेटे पंकज की जान चली गई. खेल-खेल में यह तीनों भाई-बहन घर के बाहर बने 10 फीट गहरे पानी के टैंक में डूब गए. 

थाना प्रभारी ने बताया है क‍ि तीनों मासूम बच्चों के शव पानी के टैंक से बाहर निकला कर आसींद राजकीय चिकित्सालय के शवगृह में रखवाकर आ गए हैं. इन बच्चों की मां हादसे से 2 घंटे पूर्व काम से बाहर गई थी और जब घर लौटी, तो उसके तीनों बच्चे मौत की नींद सो चुके थे.

मंत्री टी हरीश राव ने बीजेपी के घोषणापत्र का उड़ाया मज़ाक

आज फिर उछले पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का नया भाव

अद्वितीय पंजीकृत निवेशकों में एनएसई ने 5 करोड़ का आंकड़ा किया पार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -