केंद्र ने किया करतारपुर कॉरिडोर खोलने का ऐलान, 18 नवंबर को मत्था टेकने जाएगी पूरी पंजाब कैबिनेट

चंडीगढ़: केंद्र की मोदी सरकार ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर को बुधवार से फिर से खोलने का फैसला लिया है. केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को इसका ऐलान किया है. इस बीच पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने ऐलान करते हुए कहा है कि करतारपुर कॉरिडोर को पुनः खोलने के बाद पहले प्रतिनिधिमंडल के एक हिस्से के रूप में पूरा राज्य कैबिनेट 18 नवंबर को श्री करतारपुर साहिब में मत्था टेकेगा.

सीएम चन्नी ने कहा कि, ‘यह खुशी का क्षण है कि करतारपुर गलियारा फिर से खुल रहा है और सिख समुदाय की प्रार्थनाओं का जवाब दिया जा रहा है. मैं सीएम के रूप में पीएम और केंद्रीय गृहमंत्री से मिला था और उनसे आग्रह किया था. अब उन्होंने ऐलान कर दिया है, मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं. पंजाब मंत्रिमंडल 18 नवंबर को मत्था टेकने वाले पहले जत्थे में शामिल होगी.’ शिरोमणि अकाली दल (SAD) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि, ‘मुझे बेहद खुशी है कि करतारपुर कॉरिडोर को वापस खोल दिया गया है. हरसिमरत कौर बादल और मैंने पीएम मोदी को पत्र लिखा था. यह अच्छा है कि कॉरिडोर वापस खुल रहा है. यह काफी सारे लोगों की मांग थी, जिसे आज पूरा किया जा रहा है.

बता दें कि करतारपुर कॉरिडोर सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव के अंतिम विश्राम स्थल गुरुद्वारा दरबार साहिब, पाकिस्तान को पंजाब के गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा से जोड़ता है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस फैसले पर कहा कि यह फैसला गुरु नानक देव जी और सिख समुदाय के प्रति मोदी सरकार की अपार श्रद्धा को प्रदर्शित करता है.

बिहार में भीषण सड़क हादसा, सुशांत सिंह राजपूत के 6 रिश्तेदारों की दर्दनाक मौत, 4 घायल

खेल पुरस्कार पाने वालों को कोहली ने दी बधाई, यहाँ देखें सम्मानितों की पूरी सूची

सोने-चांदी की कीमतों में आया उछाल, जानिए आज का नया भाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -