पानी-पानी हुए पुडुचेरी के मुख्यमंत्री, केंद्र से मांगेंगे 200 करोड़ की सहायता राशि

पुडुचेरी : केंद्र द्वारा चेन्नई में आई बाढ़ के बाद राहत कार्यो व मदद के लिए 1000 करोड़ रुपए की राशि आवंटित किए जाने के बाद पुडुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगास्वामी ने भी केंद्र से 200 करोड़ की मदद मांगे जाने की बात कही है। रंगास्वामी का कहना है कि केंद्र शासित प्रदेश में तीन सप्ताह की भारी बारिश से बेहद नुकसान हुआ है और इसी के मद्देनजर उनकी सरकार राहत व पुनर्वास के कार्यो के लिए केंद्र से 200 करोड़ की राशि आवंटित करने की गुजारिश करेगी।

उन्होंने कहा कि मूसलाधार बारिश और बाढ़ के कारण पुडुचेरी और केन्द्र शासित प्रदेश के कराईकल क्षेत्रों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है और सरकार राहत एवं पुनर्वास प्रयासों के लिए केंद्र से 200 करोड़ रूपये की मदद का अनुरोध करेगी। रंगास्वामी जिले में बाढ़ के बाद दौरा करने पहुँचे थे। इसी दौरान रविवार की रात को कराईकल में उन्होने कहा कि पिछले तीन सप्ताह में पुडुचेरी में लोगो को गंभार कठिनाई हुई है। मकान, पशु, सड़कें व फसल सभी तहस-नहस हो गए है।

रंगास्वामी ने कहा राहत कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। अधिकारी बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन कर रहे है, इसके बाद रिपोर्ट तैयार कर केंद्र को भेजी जाएगी। इससे पहले राज्य के मंत्रियों चंद्रकासु और पीआर शिवा, कराईकल के जिला क्लेक्टर ई वल्लवन और अन्य अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री ने जिले के कई गांवों का दौरा किया और प्रभावित लोगों के साथ बातचीत की। उन्होंने राहत शिविरों का भी दौरा किया। बता दें कि केंद्र ने बाढ़ से हुए नुकसान की भरपाई के लिए चेन्नई सरकार को 1000 करोड़ की राशि आवंटित की थी, जब कि जयललिता ने 5000 करोड़ की राश मांगी थी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -