Share:
क्लर्क से 30% कमीशन मांग रहा था प्रिंसिपल, रंगे हाथों हुआ गिरफ्तार
क्लर्क से 30% कमीशन मांग रहा था प्रिंसिपल, रंगे हाथों हुआ गिरफ्तार

रीवा: मध्य प्रदेश के रीवा में लोकायुक्त ने 50 हजार रुपए कमीशन की रकम लेते हुए प्रधानाचार्य को गिरफ्तार किया है। क्लर्क से खरीदी के बिल पास करने के बदले में प्रधानाचार्य 30 प्रतिशत कमीशन ले रहा था। मामला शासकीय संभागीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI ) जिला रीवा का है। करण सिंह राजपूत RTI के प्रभारी प्राचार्य है।

प्रभारी प्राचार्य करण सिंह सामग्री खरीदी के बिलों के भुगतान के बदले में क्लर्क से कमीशन की बड़ी रकम मांग रहा था। इसकी शिकायत संस्थान के खरीदी शाखा में पदस्थ सहायक ग्रेड-3 के क्लर्क बालेंद्र कुमार शुक्ला ने लोकायुक्त से की। पुलिस अधीक्षक गोपाल सिंह धाकड़ ने इस शिकायत का सत्यापन कराया। पुख्ता प्रमाण प्राप्त होने पर लोकायुक्त ने 50 हजार रुपए की रिश्वत के साथ प्रभारी प्रधानाचार्य को धर दबोचा।

क्लर्क बालेंद्र शुक्ल ने बताया कि ITI में ट्रेनिंग मटेरियल की खरीदी वर्षभर होती है। प्रधानाचार्य इस खरीदी में कमीशन देने की निरंतर मांग कर दवाब बना रहा था। जबकि क्लर्क कमीशन देने के लिए राजी नहीं था। खरीदी का बिल भुगतान लंबित था जिसके लिए 30 फीसदी कमीशन मांग की थी। प्रधानाचार्य ने 98 हजार 500 रुपए मांगे थे। मिन्नत करने के बाद मामला 15 प्रतिशत कमीशन के 50 हजार रुपए में तय हुआ। लिहाजा क्लर्क ने लोकायुक्त से संपर्क किया। प्रमेंद्र कुमार निरीक्षक लोकायुक्त ने बताया कि प्रधानाचार्य को 50 हजार रुपए की रकम के साथ गिरफ्तार कर किया है। इस कार्रवाई में लोकायुक्त की 12 सदस्यीय टीम सम्मिलित थी। 

केरल में स्वाइन फ्लू से दहशत, कलेक्टर ने दिया सूअरों को मारने का आदेश

शिवराज सरकार ने कितना काम किया ? 20 अगस्त को जनता के सामने 'रिपोर्ट कार्ड' रखेंगे अमित शाह

15 साल का हुआ 'विराट' का क्रिकेट करियर, किंग कोहली ने इस तरह जताया फैंस का आभार

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -