विहिप नेता के भतीजे की हत्या के मामले में CCTV फुटेज आई सामने

सूरत: विश्व हिंदू परिषद् के नेता प्रवीण तोगड़िय़ा के भतीजे सहित दो की हत्या के मामले से जुड़ी सीसीटीवी फुटेज सामने आई है. वराछा इलाके में हुई इस घटना से जुड़ी सीसीटीवी से पता चलता है कि शनिवार की रात करीब 9 बजे हत्यारे दफ्तर में घुसते है।

इसके बाद हत्यारों के साथ उनकी कुछ मिनट तक बहस चलती है, जिसके कुछ ही सेकेंड बाद हत्यारों ने तीनों को चाकुओं से गोदा और चलते बने. बताया जा रहा है कि एक विवादित जमीन को लेकर रंजिश थी. इस हत्या में कामरेज तहसील में रहने वाली एक कोमल नाम की महिला का भी नाम सामने आया है।

फुटेज के आधार पर पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें वो महिला भी है. पुलिस के मुताबिक, हत्या के बाद हत्यारे कार से कामरेज पहुंचे और महिला को फोन कर कहा कि हम फंस गए है, भागना चाहते है, तुम पैसे लेकर आओ।

इसके बाद कोमल वहां गई और आरोपियों को 30 हजार रुपए दिए, इसके बाद आरोपी भावनगर की ओर भाग निकले. अमरेली के बगसरा गांव में बालूभाई नाम के शख्स की विवादित जमीन है, जो कि सरकारी रिकॉर्ड पर क्लियर नहीं हो पा रही थी।

बालू की पहचान बगसरा गांव में रहने वाले गणेश गोयाणी से थी. गणेश गोयाणी की बहन कोमल राजनीति में है और उसकी कामरेज तहसील में काफी धाक है, इसलिए बालू ने विवादित जमीन पर कब्जे के लिए कोमल की मदद ली। इसके बदले में बालू ने कोमल को 50 लाख रुपए देने का वादा किया था।

कोमल ने अपनी पहुंच के बल पर कुछ ही महीने में जमीन क्लियर करवाकर बालू के नाम करवा दी. लेकिन बाद में बालू मुकर गया और कोमल को 50 लाख रुपए देने में आनाकानी करने लगा, इसी के चलते कोमल ने बालू के मर्डर की सुपारी दे दी. कोमल ने कुछ ही दिनों पहले कांग्रेस की टिकट पर कामरेज तहसील पंचायत से चुनाव लड़ा है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -