काशी विश्वनाथ धाम के कर्मचारियों को पीएम मोदी ने भेजा खास तोहफा

काशी: काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने दिल्ली से खास उपहार भेजा है। दरअसल, मंदिर में कार्य करने वाले लोगों के लिए चप्पल पहनना वर्जित है और उन्हें सर्दी के मौसम में दिक्कतों का सामना करना पड़ा है। ऐसे में पीएम मोदी ने इन कर्मचारियों के लिए जूट निर्मित पादुकाएं भेजी हैं। 100 जोड़ी पादुकाएं भगवान विश्वनाथ की सेवा में लगे पुजारियों, सेवकों, सुरक्षाकर्मियों और सैनिटेशन का कार्य करने वाले श्रमिकों और अन्य लोगों के लिए भेजी गई हैं। बता दें कि PM मोदी काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का शुभारंभ करने के लिए गत माह काशी पहुंचे थे। बता दें कि PM काशी विश्वनाथ धाम से संबंधित परियोजनाओं पर खुद नजर रखते रहे हैं।

काशी विश्वनाथ धाम का शुभारंभ करने पहुंचे PM मोदी ने मजदूरों के साथ ही बैठकर भोजन किया था। इसके साथ ही पीएम मोदी ने अपनी कुर्सी छोड़ मजदूरों के साथ बैठकर ग्रुप फोटो भी खिंचवाई थी। अब मंदिर में तैनात लोगों का ध्यान रखते हुए उन्होंने उपहार स्वरुप जूट की पादुकाएं भेजी हैं। सरकारी सूत्रों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, मंदिर में लोग नंगे पांव काम करते हैं और इन दिनों काफी ठंड पड़ रही है। ऐसे में उन लोगों की सुविधा के लिए पीएम मोदी ने अपनी तरफ से यह एक छोटी सी भेंट देने का निर्णय लिया है।

पीएम मोदी का यह उपहार पाकर काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में काम करने वाले लोग काफी खुश हैं। सरकारी सूत्रों ने कहा कि यह आम जनता की समस्याओं को समझने का पीएम मोदी का अपना तरीका है। बता दें कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के निर्माण के बाद से बाबा विश्वनाथ के धाम में बड़ा बदलाव आया है। साफ-सफाई. भक्तों के ठहराव जैसी कई चीजों पर काफी काम हुआ है। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर को पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट भी माना जाता है और वह खुद ही इसके कामों पर नजर रखते रहे हैं।

भीषण बर्फीला तूफ़ान और उसके सामने 'चट्टान' की तरह खड़ा भारतीय सेना का जवान..देखें Video

यूपी में तैनात होंगे केंद्रीय बलों के 25 हज़ार जवान, चुनाव के दौरान ये रहेगा 'सुरक्षा प्लान'

कोरोना मरीजों में खौफनाक इजाफा, पिछले 24 घंटे में मिले 1.79 लाख नए मामले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -