चक्रवाती तूफान 'अम्फान' पर पीएम मोदी की नज़र, गृह मंत्रालय के साथ की अहम् बैठक

कोलकाता: चक्रवाती तूफान 'अम्फान' सोमवार शाम तक विकराल रूप धारण कर लेगा और इसके कारण ओडिशा के तटीय इलाकों और पश्चिम बंगाल की गंगा नदी के पास के इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होने की संभावना है. पीएम नरेंद्र मोदी 'अम्फान' से पैदा स्थिति की समीक्षा करने के लिए आज शाम हाई लेवल मीटिंग की अध्यक्षता की.

गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ पीएम मोदी ने बड़ी मीटिंग की. गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकारों को जारी किए गए परामर्श में कहा है कि 'अम्फान' सोमवार सुबह दक्षिणी बंगाल की खाड़ी के मध्य हिस्सों और बगल की मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है. मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात से तटीय ओडिशा और पश्चिम बंगाल में गंगा से सटे इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होगी. ओडिशा सरकार जहां संवेदनशील क्षेत्रों में रह रहे 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुँचाने की तैयारी कर रहा है, वहीं पश्चिम बंगाल सरकार ने तटीय जिलों के लिए चेतावनी जारी की है और राहत टीमें भेजी हैं. 

बता दें कि मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल के लिए 'ऑरेंज' चेतावनी जारी करते हुए बताया है कि 'अम्फान' 20 मई को दोपहर या शाम के दौरान अत्यंत भीषण तूफान के रूप में बांग्लादेश में हटिया द्वीप और पश्चिम बंगाल के दीघा के मध्य पश्चिम बंगाल एवं बांग्लादेश तट पर दस्तक देगा, जिससे वहां आंधी-तूफ़ान के साथ बारिश हो सकती है। 

गंगोत्री नेशनल पार्क में बढ़ा दुर्लभ वन्य जीवों का कुनबा

20 लाख करोड़ का राहत पैकेज घोषित करने से पहले सरकार ने किया था यह काम

वित्त मंत्री ने भारतीय कंपनियों के लिए नियम में किया बड़ा बदलाव

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -