ये मंदिर है नर्क का दरवाजा, जो भी जाता है कभी वापिस नहीं आता है

आपने आजतक कई अलग-अलग रहस्यमयी मंदिरों के बारे में सुना होगा लेकिन हम आपको आज जिस मंदिर के बारे में बता रहे हैं उसे नर्क का दरवाजा कहा जाता है. जी हाँ... ऐसा कहा जाता है कि जो भी इंसान उस मंदिर के पास जाता है वो कभी वापस नहीं लौटता है. ये मंदिर दक्षिणी तुर्की के हीरापोलिस शहर में मौजूद है. इस मंदिर में पिछले कई सालों से लगातार रहस्यमयी मौतें हो रही हैं. सिर्फ इंसान ही नहीं बल्कि इस मंदिर के संपर्क में आते ही पशु-पक्षी तक मर जाते थे.

ऐसा कहा जाता था कि उनकी मौत यूनानी देवता की जहरीली सांसों की वजह से हो रही है. हालांकि अब वैज्ञानिकों ने इसकी खोज कर ली है और उसके बाद यहां हो रही मौतों के पीछे की गुत्थी सुलझा ली गई है. उनका कहना था कि इसके पीछे मंदिर के नीचे से लगातार रिसकर बाहर निकल रही कार्बन डाई ऑक्साइड गैस है. इस मंदिर के बारे में जर्मनी के डुइसबर्ग-एसेन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हार्डी पफांज का कहना है कि, 'यहां हुए अध्ययन से यहां अत्यधिक मात्रा में कार्बन डाइऑक्साइड होने का पता चला है. ऐसा हो सकता है कि ये गुफा ऐसी जगह पर हो, जहां पृथ्वी की परत के नीचे से जहरीले गैसें निकल रही हों.'

सूत्रों की माने तो इस प्लूटो मंदिर के नीचे बनी गुफा में कार्बन डाई ऑक्साइड बहुत बड़ी मात्रा में पाई गई है. जी हाँ... आश्चर्यजनक रूप से वहां से निकल रही भाप की वजह से ही वहां आने वाले कीड़े-मकोड़े और पशु-पक्षी मारे जाते हैं. इसलिए वैज्ञानिक इस जगह को जानलेवा मानते हैं. उनका इस बारे में कहना है कि, 'ये जगह पूरी तरह से वाष्प से भरी होने की वजह से काफी धुंधली और घनी है कि यहां जमीन भी मुश्किल से दिखाई देती है.'

Video : शख्स ने तीन सांप की मदद से किया महिला का रेप

अब महिलाएं भी पुरुष की तरह खड़े होकर कर सकेंगी पेशाब

इस मंदिर में जाने के लिए पुरुषों को करना होता है 16 श्रृंगार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -