परशुराम जन्मोत्सव पर अपनों को भेजे ये संदेश और दे शुभकामनाएं

आप सभी को बता दें कि इस साल 3 मई को भगवान परशुरामजी का जन्मोत्सव मनाया जा रहा है। जी हाँ और पंचांग के अनुसार, वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को ही भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। इसी के साथ इस दिन अक्षय तृतीया भी मनाई जाती है।

आप सभी को हम यह भी बता दें कि भगवान परशुराम भगवान विष्णु का छठा अवतार हैं और इन्हें भी हनुमान जी की तरह चिरंजीव होने का आशीर्वाद मिला हुआ है। इसके चलते परशुराम जयंती को परशुराम जन्मोत्सव कहा जाता है क्योंकि वह आज भी जीवित हैं। इस खास मौके पर आप अपनों को शुभकामना संदेश भेजकर परशुराम जन्मोत्सव (Parshuram) की बधाईयां दे सकते हैं। 

* गुरु है वो करण के
अंतर जाने आनंत और मरण के
नमन करता सारा संसार जिसे
बने जल भी अमृत उनके चरण के


* शांत है तो श्रीराम है
भड़क गए तो परशुराम है
जय श्री राम
जय श्री परशुराम


* ब्राह्मण बदलते हैं तो नतीजे बदल जाते हैं
सारे मंजर, सारे अंजाम बदल जाते हैं
कौन कहता है परशुराम फिर नहीं पैदा होते
पैदा तो होते है बस नाम बदल जाते हैं


* परशुराम है प्रतीक प्यार का
राम है प्रतीक सत्य सनातन का
इस प्रकार परशुराम का अर्थ है
पराक्रम के कारक और सत्य के धारक

* आओ सब मनाये परशुराम जयंती
लेकर प्रभु का नाम करे गुणगान
मांगे आशिष परमेश्वर से जप कर उनका नाम
जय परशुराम


* शस्त्र और शास्त्र दोनों ही हैं उपयोगी
यही पाठ सिखा गए हैं हमें योगी
जय श्री परशुराम

परशुराम ने काट दी थी अपनी ही मां की गर्दन, जानिए उसके बाद क्या हुआ?

परशुराम जन्मोत्सव के दिन इन मन्त्र और आरती से करें पूजन

3 मई को है परशुराम जयंती, यहाँ जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -