ओलंपिक कांस्य पदक विजेता मेरीकॉम रो पड़ी

मुंबई : ओलंपिक में भारत को मुक्केबाजी में कांस्य पदक दिलाने वाली एम.सी. मेरीकॉम आज रो पड़ी उन्होंने एक पत्रकार वार्ता में कहा की ‘कई बार मैं बहुत परेशान हो जाती हूं। कुछ रेफरी और जज मेरा पक्ष नहीं लेते लेकिन मैं परवाह नहीं करती। मैं पूर्वोत्तर से हूं, कोई समस्या नहीं लेकिन मैं तब भी एक भारतीय हूं।’ मेरीकॉम ने आरोप लगाते हुए आगे कहा की मेरे ही भार वर्ग में लड़ने वाली हरियाणा की पिंकी जांगड़ा का चयनकर्ता लगातार पक्ष लेते रहे हैं. उसे मेने हराया है व प्रत्येक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर साबित किया व अभी चयनकर्ता मुक्केबाजी में चयनकर्ताओं की टीम मेरा पक्ष लेने की बजाय उसका पक्ष ले रहे है. 

इस पर और भी कई विवाद है. मेरीकॉम ने दोहराया है की वह स्वयं को अच्छे से साबित करने के लिए पूरी तरह से रिंग में तैयार हु. बता दे की मेरीकॉम को 2014 में राष्ट्रमंडल खेलों के भारतीय दल में शामिल नही किया गया था व उनकी जगह पर हरियाणा की पिंकी जांगड़ा को शामिल किया गया. व मेरीकॉम ने भारतीय चयनकर्ताओं पर आरोप लगाते हुए कहा है की मुक्केबाजी चयन और ट्रायल्स में क्षेत्रीय आधार पर मेरे साथ पक्षपातपूर्वक कार्य हुआ है. जिससे में काफी दुखी हु.  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -