प्राचीन भारत को देखना है तो इन गांवों का करें रुख

भारत का इतिहास काफी सदियों पुराना है. जी हाँ और आधुनिकता के इस दौर में भी प्राचीन भारत को आसानी से देखा जा सकता है. जी दरअसल देश में मौजूद कई स्थान हैं जो आज भी प्राचीन भारत की छवि को अपने अंदर संजोय रखे हुए हैं. हालाँकि अगर आप भी प्राचीन भारत की झलक देखना चाहते हैं, तो इन गांवों का रुख कर सकते हैं जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं.

बिहार का नेपुरा गांव- बिहार में स्थित नेपुरा गांव आज भी अपनी पुरानी परंपराओं के लिए जाना जाता है. जी दरअसल नालंदा और राजगीर के बीच में मौजूद नेपुरा गांव में आज भी लोग अपनी जीविका चलाने के लिए कढ़ाई-बुनाई पर ही निर्भर हैं. ऐतिहासिक मान्यताओं के अनुसार नेपुरा गांव में ही भगवान बुद्ध ने अपना पहला उपदेश दिया था. इसी के साथ महावीर जैन भी कुछ समय के लिए नेपुरा में रूके थे.

कर्नाटक का मत्तूर गांव- मत्तूर गांव कर्नाटक के शिमोगा में मौजूद है. जी हाँ और आपको जानकर हैरानी होगी कि मत्तूर गांव के लोग आज भी भारत की प्राचीन भाषा संस्कृत में ही बात करते हैं. कहा जाता है, संस्कृत बोलने के साथ-साथ हर रोज यहाँ नदी किनारे बैठकर मंत्रों का जाप करना भी सदियों पुरानी परंपराओं में से एक है.


राजस्थान का मांडवा गांव- उत्तर में बिहार और दक्षिण में कर्नाटक के बाद पश्चिम में राजस्थान का मांडवा गांव भी प्राचीन भारत की धरोहर का ही हिस्सा है. हालाँकि कई प्राचीन इमारतें, मिनारें और हवेलियों को संजोए मांडवा राजस्थान के मशहूर टूरिस्ट स्पॉट में से एक है. वहीं मांडवा की प्राचीन सभ्यता का दीदार करने के लिए यहां हर साल लाखों की तादाद में पयर्टकों का जमावड़ा लगता है.

बारिश में मंजिल से भी खूबसूरत होगा सफर, ये हैं अद्भुत ट्रेन रूट्स

फादर्स डे पर है घूमने का प्लान तो पापा को ले जाएं इन जगहों पर

महंगाई का एक और बड़ा झटका, महंगा होने वाला है हवाई सफर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -