बारिश में मंजिल से भी खूबसूरत होगा सफर, ये हैं अद्भुत ट्रेन रूट्स

आमतौर पर जब हम ट्रेन के सफर की बात करते हैं, तो लोग इसे बहुत पसंद करते हैं. ट्रैन का सफर कई लोगों की पहली पसंद होता है और ट्रैन से सफर में काफी आनंद भी आता है, लेकिन क्‍या हो अगर सफर आपके मंजिल से भी अधिक रोमांच से भरा हो और सफर. जी हाँ, अगर आप मंजिल तक पहुँचने से पहले खुद को प्रकृति की गोद में पाए तो. आज हम आपको उन रूट्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो भारत के सबसे खूबसूरत रेलवे रूट्स हैं.

मुंबई से गोवा की यात्रा (Mumbai to Goa)- सह्याद्रि पर्वतमाला और अरब सागर के किनारों से होकर गुजरती ये ट्रेन यात्रा सबसे सुंदर ट्रेन सवारी कही जा सकती है. जी दरअसल यह मुंबई और गोवा के बीच की यात्रा है, जो सुरंगों, पुलों, तटीय परिधियों, पश्चिमी घाटों की सीढ़ियों, असंख्य छोटी नदियों और हरे भरे मैदानों से होकर गुजरती है.

कन्याकुमारी से त्रिवेंद्रम की यात्रा (Kanyakumari-Trivandrum)- कन्याकुमारी से त्रिवेंद्रम की यात्रा में आप प्राकृतिक नजारों का आनंद ले सकते हैं. आइलैंड एक्सप्रेस से आप सबसे सुरम्य स्थानों के बीच से होते हुए तमिल और केरल की वास्तुकला को आप ट्रेन में बैठे-बैठे देख सकते हैं. जी हैं और करीब बीस घंटे की इस यात्रा में आप केरल के चर्चों और खूबसूरत मंदिरों की खूबसूरती को देख सकते हैं.

हिमालयन क्‍वीन से कालका से शिमला तक की यात्रा (Kalka to Shimla on Himalayan Queen)- कालका-शिमला रेल लाइन यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल में शामिल है. जी हाँ और इस रूट पर चलने वाली ट्रेनें टॉय ट्रेन से मिलती-जुलती हैं. 96 किमी लंबा यह मार्ग 102 सुरंगों और 82 पुलों से होकर गुजरता है. जी दरअसल इस सफर को आप 5 घंटे तक एंज्‍वॉय कर सकते हैं और पूरे रस्‍ते आप भरपूर प्राकृतिक सुंदरता का आनंद उठा सकते हैं जिसमें चीड़ के पेड़, ओक, घाटियाँ, देवदार, रोडेंड्रोन के जंगल नजर आएंगे.

जैसलमेर से जोधपुर की यात्रा (Jaisalmer-Jodhpur)- दिल्ली जैसलमेर एक्सप्रेस में जोधपुर से जैसलमेर की ट्रेन यात्रा भी हर किसी के लिए यादगार साबित हो सकती है. जी हाँ और ‘डेजर्ट क्वीन’ नाम की इस ट्रेन में आप डेस्टिनेशन तक 6 घंटे में पहुंचेंगे. आपको बता दें कि ट्रेन से रेगिस्तानी नजारा वाकई दर्शनीय होता है.जी हाँ और  ज़ेरोफाइटिक पेड़, पीली मिट्टी, यहां वहां पसरे टीले, ऊंट और रेगिस्तानी बस्तियां एक कमाल का अनुभव कराती हैं.

कर्जत से लोनावला (Karjat-Lonavala)- पश्चिमी घाट से गुजरने वाली रेल यात्रा भी वाकई हर किसी को करनी चाहिए. जी दरअसल कर्जत से लोनावाला तक के रास्‍ते में आप ठाकुरवाड़ी, मंकी हिल्स और खंडाला से होकर गुजरेंगे और खुद को रहस्यमयी प्रकृति में खोया पाएंगे. यहाँ मानसून के मौसम में सफर और भी सुहाना हो जाता है.

मंडपम से रामेश्वरम (Mandapam - Rameshwaram)- मंडपम से रामेश्वरम की ट्रेन यात्रा भी एक अद्भुत मजेदार है. समुद्र के बीच मौजूद ट्रैक से गुजरती ट्रेन वाकई बेहद ही रोमांचकारी अनुभव कराती है. आप सभी को बता दें कि रामेश्वरम से भारत का दूसरा सबसे लंबा पुल निकलता है जो भारत के कुछ प्रमुख क्षेत्रों को पंबन आईलैंड से जोड़ता है. आपको बता दें कि इस पूरी यात्रा में एक घंटे का समय लगता है.

फादर्स डे पर है घूमने का प्लान तो पापा को ले जाएं इन जगहों पर

महंगाई का एक और बड़ा झटका, महंगा होने वाला है हवाई सफर

ये हैं भारत के सबसे भुतहा पिकनिक स्पॉट, एक बार जाए जरूर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -