Share:
अब डॉक्टर नहीं बल्कि रोबोट करेगा इंसानों का ऑपरेशन...!
अब डॉक्टर नहीं बल्कि रोबोट करेगा इंसानों का ऑपरेशन...!

नई दिल्ली: क्या आप ये जानते हैं कि भारत ने पहला सर्जिकल रोबोट तैयार कर लिया है और उसे इंस्टॉल भी किया जा चुका है. मेडिकल इलाके में इंडिया ने एक नया इतिहास रच चुके है. अगर ये बोला  जाए कि अब आपका ऑपरेशन डॉक्टर नहीं, बल्कि रोबोट करेंगे तो शायद यकीन करना कठिन हो सकता है. लेकिन इसे सच कर दिखाया गया है.

भारत का पहला सर्जिकल रोबोट सिस्टम: खबरों का कहना है कि राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर, नई दिल्ली ने आधुनिक भारतीय मेड-टेक स्टार्ट-अप एसएस इनोवेशन्स द्वारा निर्मित अपनी तरह के पहले 'मेड-इन-इंडिया' सर्जिकल रोबोट सिस्टम, एसएसआई मंत्रा को इंस्टॉल  कर दिया है. आपको बता दें, स्वदेशी एसएसआई मंत्रा का डिजाइन विश्व विख्यात रोबोटिक कार्डियक सर्जन डॉ. सुधीर पी श्रीवास्तव ने दिया है, जो भारत में सर्जिकल प्रक्रियाओं के नए दौर की शुरुआत करेगा, जिसके चलते देश के लोगों के लिए रोबोटिक सर्जरी सुलभ एवं किफायती होने वाली है\.

रोबोट्स की सुरक्षा की पुष्टि की गई: प्रश्न ये है कि क्या अगर किसी व्यक्ति का ऑपरेशन डॉक्टर के बजाय एक रोबोट करेगा, तो क्या लोग इस पर भरोसा दिखा पाएंगें? लोग क्या खुद को असुरक्षित महसूस नहीं करेंगे? ज़ी मीडिया ने इसकी पड़ताल पूरी कर ली है.  खबरों का कहना है कि दो पायलट परियोजनाओं के तहत डॉ. सुधीर रावल और राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर (आरजीसीआई) से उनकी टीम ने एसएसआई मंत्रा की समय से सफलतापूर्वक 26 सर्जरियों को अंजाम दिया, जिसके द्वारा इन रोबोट्स की सुरक्षा, व्यवहारिकता और प्रभाविता की पुष्टि भी हो चुकी है. बता दें कि अब ये रोबोट सर्जरी के आधुनिक तरीके को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए तैयार हैं. अब आम जनता बेहद किफायती दरों पर इस आधुनिक सर्जरी का लाभ उठा पाएगी.

डॉ. सुधीर रावल ने बताया कि 'मैंने कई मरीजों पर एसएसआई मंत्रा सिस्टम का उपयोग किया है. इसका परफोर्मेन्स बहुत अच्छा है और कई जटिल ऑपरेशन्स में मैंने इसका इस्तेमाल किया. आने वाले समय में देश और दुनिया भर के मरीज इस गुणवत्तापूर्ण एवं किफ़ायती तकनीक से लाभान्वित होंगे.' ऐसा दावा किया जा रहा है कि मौजूदा सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम की तुलना में यह आधुनिक सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम बेहतरीन फीचर्स और ऐप्लीकेशन्स से भरा हुआ होगा और बहुत कम महंगा भी है. यानी कम खर्च में बेहतर परिणाम के लिए ये मशीन हमारे देश में और दुनियाभर में सर्जरी के तरीके में क्रान्तिकारी बदलाव भी लेकर आ सकती है. इस सर्जिकल रोबोट से लोगों को कई सारी सुविधाओं का लाभ मिल जाएगा. कम खर्च में बेहतर इलाज के साथ-साथ यह रोबोटिक सर्जरी को किफायती बनाकर आम लोगों को अधिक सटीक एवं आधुनिक सर्जरी के फायदे उपलब्ध करवाने वाली है.

कौन हैं 'रोबो डॉक्टर'?: जिस SS इनोवेशन्स ने इस सर्जिकल रोबोट को तैयार भी किए जा चुके है, उसके संस्थापक, चेयरमैन और CEO डॉ. सुधीर पी श्रीवास्तव, को 'रोबो डॉक्टर' के नाम से भी पहचाना जाता है. उन्होंने ज़ी मीडिया से खास बातचीत में बताया ति 'रोबोटिक सर्जरी के फायदों और देश में सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम की कम उपलब्धता को देखते हुए मैंने नए सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम पर काम करने का निर्णय लिया जो अपने आधुनिक फीचर्स के साथ कॉर्डियक सर्जरी सहित विभिन्न प्रकार की सर्जरी को बेहतर और लागत प्रभावी बना सकें. एसएसआई में हम देश के प्रतिभाशाली इंजीनियरों और अनुभव विश्वस्तरीय वैज्ञानिकों की मदद से ऐसा करने  में सफल हुए हैं.'

'बार-बार खून से लथपथ हो रही महिला', वजह जानकर डॉक्टर्स भी हुए हैरान

दूल्हे से नहीं करती प्यार फिर भी करनी पड़ी शादी, रोते-रोते दुल्हन ने बताई वजह

जब इस क्यूट बच्ची को पता चला की वो बनने वाली है बड़ी बहन, तब इसने दिया ऐसा जवाब हर कोई हो गया हैरान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -