कर्नाटक चुनाव प्रचार में नीतीश कुमार भी कर रहे है जोर आजमाइश

कर्नाटक चुनाव प्रचार में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी जोर आजमाइश कर रहे है और चिन्नागिरी में जदयू के प्रत्याशी के लिए मतदाताओं को रिझाने की कवायद में जुटे है. जदयू ने कर्नाटक में 28 उम्‍मीदवार उतारे हैं. चिन्‍नागिरी में पार्टी प्रत्‍याशी महिमा पटेल के लिए वोट मांगते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि समान आचार संहिता और अनुच्छेद 370 पर जदयू के स्टैंड में कोई बदलाव नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा कि वे या जदयू टकराव की राजनीति से सहमत नहीं हैं. इससे समाज में अनावश्यक तनाव पैदा होता है. राजनीतिक दलों में मत भिन्नता होती है, लेकिन तार्किक बहस होनी चाहिए. बहुत लोग टकराव की राजनीति करते हैं.अनाप-शनाप भाषण देते रहते हैं. यह उचित नहीं है.


नीतीश कुमार ने कहा कि समान आचार संहिता और अनुच्छेद 370 पर जदयू के स्टैंड में कोई बदलाव नहीं है. इन मामलों में जदयू का जो रुख पहले था वह अब भी है. इस संबंध में पार्टी की ओर से केंद्र सरकार को पत्र भी लिखा जा चुका है. उन्होंने कहा कि तीन तलाक जैसे मुद्दे पर भी जदयू ने अपने रुख से 2016 में विधि आयोग को स्पष्ट रूप से अवगत कराया था. इस मसले पर भी जदयू के स्टैंड में कोई बदलाव नहीं है.


सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने सत्ताधारी कांग्रेस पर तेज हमला किया. उन्होंने कहा कि कर्नाटक विकसित राज्य है, लेकिन यहां भ्रष्टाचार की समस्या व्याप्त है. भ्रष्टाचार से हर व्यक्ति परेशान है. अगर यहां से भ्रष्टाचार समाप्त हो जाए तो कर्नाटक और बहुत आगे निकल जाए। देश के विकास में यह बड़ी भूमिका निभाने लगेगा.

 

सिद्धारमैया का मोदी को ओपन डिबेट चैलेंज

कर्नाटक चुनाव: युवा कार्यकर्ताओं को पीएम ने दिया जीत का मंत्र

पीएम की माँ के ऑटो में सफर की वायरल तस्वीर का सच

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -