बिहार में मजदूरों की वापसी पर सियासत गर्म, तेजस्वी पर निखिल मंडल ने बोला हमला

पटना: बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव लगातार राज्य के सीएम नीतीश कुमार पर हमलावर हैं. इस बार तेजस्वी यादव मजदूरों को लाने वाली ट्रेन में, किराए को लेकर बिहार सरकार पर हमला बोल रहे हैं. तेजस्वी के हमले पर सत्ताधारी दल ने भी पलटवार किया है.

जदयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने तेजस्वी यादव पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया है. निखिल मंडल ने अपने ट्वीट में लिखा है कि, 'ट्विटर पर कभी ट्रेन देते हैं, तो कभी बस! लोग पहचानते है आपलोगों को, देने के नाम पर आप लोग सिर्फ दे सकते हैं लूट, हत्या, नरसंहार, अपहरण, डकैती और लेने के नाम पर घोटाला, जमीन, माल-मॉल.' निखिल मंडल ने आगे लिखा कि, 'बिहार सरकार गंभीर है हर मुद्दे पर, आप टेंसन न लें. आप दिल्ली में मस्ती कीजिये, वैसे आज जल्दी जग गए, वाह.' 

दरअसल, इससे पहले तेजस्वी यादव ने कहा था कि, वह बिहारी श्रमिकों को लाने के लिए 50 ट्रेनों का किराया देने के लिए तैयार हैं. तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया कि, '15 साल वाली डबल इंजन सरकार अप्रवासी बिहारी मजदूरों को वापस नहीं लाने के बहाने रोज टाल-मटोल कर रही है. 5 दिनों में 3 ट्रेनों से लगभग 3500 लोग ही वापस आ पा रहे हैं. कभी किराया, कभी संसाधनों तो कभी नियमों का रोना रोते हैं. नीतीश सरकार की मंशा कतई मजदूरों को वापस लाने की नहीं है.'

सिंगापुर में 4800 भारतीय कोरोना पॉजिटिव, मरीजों में 90 फीसद मजदूर

चीन को लेकर एक और बड़ा खुलासा, कोविड-19 की गंभीरता को पूरी तरह नहीं बताया

अपने घरों को लौट रहे मजदूरों के लिए सोनिया गाँधी ने किया एलान, कहा- कांग्रेस उठाएगी रेल टिकट का पूरा खर्च

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -