12वीं बोर्ड परीक्षा में 296 परीक्षार्थी नक़ल करते हुए पकडे गए

मध्य प्रदेश: मध्य प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से आयोजित हो रही कक्षा 12वीं की परीक्षा के पहले दिन मंगलवार,1 मार्च को परीक्षा के दौरान जांच करने पर 296 नकलची छात्र पकड़े गए. इस बोर्ड  परीक्षा में साढ़े सात लाख से अधिक परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं.

शिक्षा मंडल के जनसंपर्क अधिकारी एस.के. चौरसिया की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की  परीक्षा के पहले दिन मुरैना में 27, भिंड में 212, छतरपुर में तीन, पन्ना में चार, सागर में दो, शहडोल में दो, सिंगरौली में एक, देवास में छह, राजगढ़ में पांच, सीहोर में दो, विदिशा में दो, रायसेन में एक, बैतूल में पांच, जबलपुर में तीन, कटनी में तीन, नरसिंहपुर में 15, डिंडौरी में  भी निरीक्षण दलों द्वारा नकल के तीन प्रकरण बनाए गए हैं. 

इस बोर्ड परीक्षा के लिए 3835 परीक्षा केंद्र बनाए गए

शिक्षा मंडल कार्यालय से दी गई जानकारी में बताया गया है कि हायर सेकेंडरी परीक्षा की शुरुआत हिंदी के पेपर से हुई है. और इस परीक्षा के लिए 3835 केंद्र बनाए गए हैं, इनमें से 945 संवेदन और अतिसंवेदनशील केंद्र है. यहां सुरक्षा के विशेष प्रबंध किए गए हैं. इस परीक्षा में सात लाख 70 हजार से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं.

नकल रोकने के लिए किये गए कड़े से कड़े इंतजाम 

मंडल ने नकल को रोकने के भी अच्छे इंतजाम किए हैं. परीक्षा केंद्रों के बाहर ही अंदर आने से पहले परीक्षार्थी की अच्छी तरह से चेकिंग जो शिक्षक और महिला शिक्षक के द्वारा की जाएगी .वहीं छात्राओं की चेकिंग केवल महिला शिक्षक ही करेंगी .परीक्षार्थी  के पास  परीक्षा सामग्री के अलावा अन्य कोई सामग्री नहीं होनी चाहिए जैसे कोई बुक, मोबाईल फोन, और भी कोई एलेक्टोरिन सिस्टम नहीं होना चाहिए.परीक्षा दौरान ये पाये गए तो उन पर कड़ी कार्यवाई की जाएगी .

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -