Mother's Day 2018 : शायरियों से भरपूर

मैं रात भर जन्नत की सैर करता रहा यारो
सुबह आंख खुली तो देखा 
सर मां के कदमों में था.

 

फूल में जिस तरह खुशबू अच्छी लगती है
मुझको उस तरह मेरी मां अच्छी लगती है...

भगवान सलामत और खुश रखे मेरी मां को
सारी दुआओं में मुझे ये दुआ अच्छी लगती है...

 

घुटनों से रेंगते-रेंगते, कब पैरों पर खड़ा हुआ
तेरी ममता की छांव में, जाने कब बड़ा हुआ

 

काला टीका दूध मलाई, आज भी सब कुछ वैसा है,
मैं ही मैं हूं हर जगह, मां प्यार ये तेरा कैसा है...

 

सीधा-साधा, भोला-भाला, मैं ही सबसे अच्छा हूं,
कितना भी हो जाऊं बड़ा, मां मैं आज भी तेरा बच्चा हूं...

 

मंज़िल दूर और और सफर बहुत है,
छोटी-सी ज़िंदगी की फिक्र बहुत है,
मार डालती ये दुनिया कब की हमें,
लेकिन ‘मां’ की दुआओं में असर बहुत है
हैप्पी मदर्स डे.

 

मां तो जन्नत का फूल है, 
प्यार करना उसका उसूल है,

दुनिया की मोहब्बत फिजूल है,
मां की हर दुआ कबूल है,

मां को नाराज करना
इंसान तेरी भूल है,

मां के कदमों की मिट्टी
जन्नत की धूल है...

 

लबों पर उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
बस एक मां है जो हमसे कभी खफा नहीं होती.

Mothers Day के liye One Line शायरी

मदर्स डे: अपनी मां को गिफ्ट करें शानदार व किफायती गैजेट

माँ की ममता को दर्शाती बेहतरीन शायरियां

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -