डिटेक्टिव की मौत के 5 दशक बाद इजरायल ने खोजे उसके अवशेष
डिटेक्टिव की मौत के 5 दशक बाद इजरायल ने खोजे उसके अवशेष
Share:

येरुशलम : इजरायल ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए अपने जासूस एली कोहेन के मारे जाने के 5 दशक बाद उसके कुछ अवशेष हासिल कर लिए है. बता दें कि इजरायल का यह जासूस सीरिया में पकड़ा गया था और इसे  जाने और सरेआम फांसी पर लटकाया गया था. अब करीब 50 साल बाद इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद ने उनकी घड़ी को ढूंढ निकालने का दावा किया है. घड़ी तलाशने के लिए एक विशेष अभियान चलाया गया था. 

इस जासूसी एजेंसी ने दावा किया कि यह घड़ी मोसाद ने सीरिया में हाल ही में एक विशेष अभियान में हासिल कि  है. हालांकि इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई कि इस जासूस की घड़ी उन्हें कहां और किस हाल में मिली है. इस बारे में इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा , 'मैं मोसाद के लड़ाकों के दृढ़ एवं साहसिक अभियान की तारीफ़ करता हूं जिसका एकमात्र मकसद अपने महान जासूस की निशानी को इजरायल को वापस सौंपना था जिसने देश को सुरक्षित बनाए रखने में अहम योगदान दिया था.'

जासूस कोहेन की याद में कई सप्ताह पहले यहाँ पर एक वार्षिक समारोह आयोजित किया गया था. माना जाता है कि मोसाद के निदेशक योस्सी कोहेन ने जासूस की यह घड़ी कोहेन के परिवार को वापस दे दी है. 

राहुल गाँधी को क्या बताना चाहते थे भय्यू जी महाराज...

पुतिन-ट्रम्प राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा करेंगे- अमेरिकी राजदूत

RSS मुस्लिमों को बीजेपी से दूर कर रहा है

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -