VIDEO: अकेले सफर कर रही महिलाओं का सहारा है 'मेरी सहेली अभियान'

एक महिला के लिए अकेले सफर करना मुश्किल होता है। जी दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि कहीं भी कुछ भी हो सकता है और आजकल तरह-तरह की खबरें आती हैं। हालाँकि इसी को देखते हुए रेलवे ने अकेले यात्रा कर रही महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए एक नये अभियान की शुरुआत की है। जी दरअसल महिलाओं को सुरक्षा देने वाले इस अभियान का नाम ‘मेरी सहेली’ है। आपको बता दें कि यह अभियान रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के डीजीपी अरुण सिंह और उत्तर पश्चिम रेलवे के आईजी अरोमा सिंह ठाकुर ने ट्रेनों में अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों के लिए शुरू किया है। यह अभियान साल 2020 में शुरू किया गया है जो बहुत बेहतरीन है।

यह अभियान रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के सहयोग से चलाया जा रहा है। वहीं इस अभियान में आरपीएफ की महिला विंग की महिलाएं शामिल है जो यात्रा के दौरान अकेले सफर कर रही महिलाओं से उनका हालचाल पूछती हैं और उनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखती हैं। इसी के साथ यह टीम ट्रेन के प्रारंभिक स्टेशन से ही महिला यात्रियों से संपर्क करती है। उसके बाद उनसे यात्रा की पूरी डिटेल और गंतव्य स्थान की (जहां वो जा रही है) पूरी जानकारी लेती है। इसी के साथ ही उन्हें ट्रेन में यात्रा के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में बताती है। इसी के साथ रेलवे हेल्पलाइन नंबर 182 के उपयोग के बारे में समझाती है।

सफर के दौरान टीम महिला यात्रियों के साथ लगातार संपर्क में बनी रहती है और ट्रेन के प्रत्येक कोच को एस्कॉर्ट भी करती है। आपको हम यह भी बता दें कि ‘मेरी सहेली अभियान’ का उद्देश्य सफर के दौरान महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध को रोकना है। इस अभियान के तहत विंग में शामिल महिलाएं रास्ते में महिलाओं को जागरूक करेंगी और उनकी सुरक्षा में जुटी रहती हैं। आपको यह भी बता दें कि मेरी सहेली अभियान के तहत आरपीएफ ने जो टीम बनाई है, उसमें केवल महिला कर्मचारियों को रखा गया है।

हिमाचल में पार हुआ 100 प्रतिशत का आंकड़ा हुआ पार

मुंबई पहुंचा Omicron, इतने लोग हुए संक्रमित

छत्तीसगढ़ में कोरोना के नए वैरिएंट ने ढाया कहर, सामने आए इतने नए केस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -