आर्थिक मुद्दों को लेकर दो हस्तियों की मुलाकात

नई दिल्ली : मौद्रिक नीति समीक्षा को लेकर 29 सितम्बर को रिज़र्व बैंक के द्वारा अपने नीतिगत फैसलों की घोषणा की जाना है. और इसी मामले को लेकर हाल ही में RBI के गवर्नर और देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली की मुलकात भी हुई है. मामले में यह भो सामने आया है कि यहाँ दोनों हस्तियों के बीच आर्थिक मुद्दों पर चर्चा की गई है. यह अनुमान लगाया जा रहा है कि केंद्रीय बैंक के द्वारा दरों में कम से कम चौथाई प्रतिशत की कटौती की जाना है क्योकि फ़िलहाल मुद्रास्फीति में नरमी का रुख बना हुआ है.

अरुण जेटली और रघुराम राजन की यह मुलाकात करीब एक घंटे तक चली और इस दौरान राजन ने यह भी कहा है कि "बैठक काफी अच्छी रही है और हमने भारत के कई मुद्दों पर चर्चा की है." साथ ही रघुराम राजन ने यह भी कहा है कि सूक्ष्म, लघु व मध्यम इकाइयां (MSME) उद्यमियों को कर्ज देना कारोबार के लिहाज से बैंको के लिए अधिक फायदेमंद साबित हो सकता है. साथ ही उन्होंने ई-कॉमर्स पर ध्यान देते हुए कहा कि केंद्रीय बैंकों के द्वारा ई-कॉमर्स के क्षेत्र में उत्पाद को बेचे जाने में मदद भी की जा सकती है. राजन ने यह भी बताया है कि पिछले कुछ समय में ई-कॉमर्स के माध्यम से उत्पाद को बेचे जाने के क्षेत्र में काफी वृद्धि का देखने को मिली है जोकि एक बड़ी उपलब्द्धि भी है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -