अच्छे दिन तो नहीं बुरे दिन जरूर आ गए

Jan 15 2016 02:50 PM
अच्छे दिन तो नहीं बुरे दिन जरूर आ गए

लखनऊ : उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपने जन्मदिवस पर पार्टी के कार्यकर्ताओं से भेंट की। उन्होंने पत्रकारों से भी चर्चा की। उन्होंने अपने जन्मदिन पर लखनऊ में उत्तरप्रदेश की सत्ताधारी समाजवादी पार्टी और केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार का विरोध करते हुए कहा कि अच्छे दिन तो आए नहीं है। बल्कि लोगों के बुरे दिन भी आ गए हें। पठानकोट पर हुए हमले को लेकर भी उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

इस दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश की सुरक्षा करने में असफल रही है। उनका कहना था कि केंद्र सरकार द्वारा सांप्रदायिक शक्तियों को छूट देने के चलते देश में अफरा - तफरी का माहौल है। उनका कहना था कि भारतीय जनता पार्टी दिल्ली और बिहार की ही तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी वही पुराना राग अलाप रही है। ये वादे भाजपा को बुरी तरह से हरा सकते हैं। भाजपा कंपनी के यूपी में भी बिहार जैसे ही हाल होने हैं।

उप्र की मुख्यमंत्री मायावती ने सपा सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि उसने लोहिया के समाजवाद का मजाक उड़ाया है। उनका कहना था कि उत्तरप्रदेश सरकार 50 सूखा प्रभावित जिलों में किसानों को लेकर उदासीन है, सैफई महोत्सव में सरकारी पैसा लगा दिए जाने पर उन्होंने अपनी आपत्ती ली। उनका कहना था कि समाजवादी पार्टी दलित और पिछड़ों के ही साथ भेद कर रही है। समय आने पर इसका ब्याज समेत जबाव दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राजनीति में दलित परिवार के बच्चों को आगे बढ़ने नहीं दिया जाता है। मगर कमजोर वर्ग के लिए अच्छे कार्य करने की दिशा में कुछ कार्य किया जाना चाहिए।