सेना के बेड़े से मारुति जिप्सी को विदाई रही है ये दमदार गाड़ी

भारतीय सेना के दस्ते में मारुति सुजुकी जिप्सी को रिप्लेस किया जा रहा है और इसका जिम्मा उठाया है टाटा ने सफारी स्टॉर्म के दम पर. कंपनी ने डिलीवरी भारतीय सेना को शुरू कर दी है. टाटा मोटर्स कुल 3,192 यूनिट्स डिलीवर करेगी.टाटा के अलावा, निसान और महिंद्रा भी भारतीय सशस्त्र बलों को एसयूवी सप्लाई कर रही है. इसी के साथ भारतीय सशस्त्र बलों को 800 किलोग्राम पेलोड की क्षमता वाले जिस वाहन की तलाश थी जिसमें हार्ड-टॉप छत के साथ-साथ एयर कंडीशनर भी हो अब समाप्त हो चुकी है.

सेना कि विशेष मांग और जरूरतों के हिसाब से इन गाड़ियों के साइड में जैरीकैन को लटकाने की जगह बनाई गई है ताकि दूर-दराज के इलाकों में ईंधन स्टोर करके ले जाने में कोई परेशानी न हो. कंपनी ने इनमें व्हील्स को भी ऑलीव ग्रीन रखा है. सफारी स्टॉर्म का आर्मी ग्रीन कलर वर्जन केवल इंडियन आर्मी के लिए ही होगा, यह वर्जन सिविलियन्स के लिए उपलब्ध नहीं होगा. नियमित सफारी स्टॉर्म से अलग इसमें सभी क्रोम बिट्स काले रंग या हरे रंग से पेन्टेट किए गए हैं. सेना के लिए तैयार की गई सफारी में बोनट पर एंटीना लगाया गया है.

एक्स्ट्रा फ्यूल रखने के लिए फेंडर पर टॉइंग ट्रेलरों और कुछ कनस्तर माउंट के लिए एक हुक भी लगाया गया है. विशेष मांग को लेकर रेग्युलर गाड़ियों की अपेक्षा इन गाड़ियों के संस्पेंशन लेवल को अपग्रेड किया गया है. सफारी के रेग्युलर वर्जन में 2.2-लीटर वारीकोर हार्डकोर इंजन लगाया गया है. यह इंजन 154 Bhp की पावर के साथ 400 Nm का टॉर्क जनरेट करता है. इंजन को 6-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन से लैस किया गया है. तो दशकों से सेना की सेवा करने वाली मारुति सुजुकी जिप्सी को टाटा ने सफारी स्टॉर्म जैसी दमदार गाड़ी के जरिये विदाई दे रही है. 

 

भारत में लांच हुई यह दमदार गाड़ी

इस दिन लांच होगी हीरो की Xtreme 200R

ऑटो सेक्टर की बड़ी ख़बरें एक साथ

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -